हार्दिक का उल्टा दांडी मार्च 5 सितम्बर से

हार्दिक का उल्टा दांडी मार्च 5 सितम्बर से

सूरत। महात्मा गांधी की ऐतिहासिक दांडी यात्रा के 85 साल बाद गुजरात में राजनीतिक रूप से मजबूत पटेल समुदाय को आरक्षण दिलाने के लिए अन्य पिछडा वर्ग (ओबीसी) में शामिल करने की मांग को लेकर आंदोलनरत पाटीदार अनामत आंदोलन समिति के मुख्य संयोजक हार्दिक पटेल अपने अभियान के तहत आगामी पांच सितंबर से दांडी से अहमदाबाद में साबरमती तक की तीन सौ किलोमीटर की उल्टी दांडी यात्रा करेंगे।

हार्दिक ने आज यहां पत्रकारों से बातचीत में कहा कि यह पदयात्रा 10 दिनों में पूरी कर ली जाएगी। उन्होंने इस मौके पर शांतिदूत बापू और लौहपुरूष सरदार पटेल का नाम लेते हुए अपने इस अनूठे अभियान की घोषणा की। ज्ञातव्य है कि महात्मा गांधी ने ब्रिटिश सरकार के नमक कानून पर प्रतिबंध को तोडने के लिए अहमदाबाद के साबरमती आश्रम से दांडी तक की पदयात्रा की थी।

22 वर्षीय हार्दिक जिनकी संक्षिप्त गिरफ्तारी के बाद 25 अगस्त की रात पूरे गुजरात में हिंसा फैल गयी थी जिसमें दस लोग मारे गये थे तथा व्यापक आगजनी में 200 से अधिक वाहन जला दिये गये थे, ने कहा कि हमारा आगे का आंदोलन पूरी तरह अहिंसात्मक होगा लेकिन हमारा संकल्प सरदार पटेल जैसा फौलादी होगा।

हार्दिक ने मंगलवार को यहां अस्पताल में भर्ती अपने उन समर्थकों से भी मुलाकात की जो पिछले दिनों की हिंसा के दौरान घायल हुए थे इनमें पुलिस लाठीचार्ज में अपनी एक आंख गंवाने वाली महिला भी शामिल थी। उन्होंने वहां की एक उपजेल में बंद अपने अन्य समर्थकों से भी मुलाकात की। बाद में उन्होंने सूरत, नवसारी, बारडोली, अंकलेश्वर और भरूच के अपने संगठन के कार्यकर्ताओं के साथ भी चर्चा की। इसको राज्य में उनके संगठन के आंदोलन के दूसरे चरण की शुरूआत माना जा रहा है।

India