अवीवा के सहयोग से सचिन करेंगे बच्चों के सपनों को साकार

अवीवा के सहयोग से सचिन करेंगे बच्चों के सपनों को साकार

लखनऊ: अवीवा इंडिया के नवीनतम कंज्यूमर कनेक्ट इनिशिएटिव - अवीवा अर्ली स्टार्टर्स के अंतर्गत क्रिकेट लीजेंड सचिन तेंदुलकर नें आज मुंबाई के शेल्टर डॉन बोस्को में बच्चों से मुलाकात की और उन्हें प्रेरित किया। बच्चों को जीवन में जल्दी ही अपने सपनो की तैयारी की प्रेरणा देने के लिए पिछले महीने  इस इनिशिएटिव की शुरुआत की गई थी।

वंचित वर्ग के बच्चों को प्रेरित करने के लिए, अवीवा द्वारा शेल्टर से एक बच्चे का चयन किया जाएगा जिसे कैंपेन के अंतर्गत चयनित बच्चों के साथ मेंटर किया जाएगा। इस अभियान के लिए प्रेरणा मुख्य तौर पर सचिन तेंदुलकर से मिली है जो 2007 से अवीवा इंडिया के ब्रांड एंबेसडर है। लॉन्च के मौके पर सचिन नें कहा कि उन्हें अपने बड़े सपनों को साकार करने का मौका इसीलिए मिला क्योंकि उन्होनें जल्दी शुरुआत की थी।

सचिन नें कहा कि मैं 16 साल की उम्र में भारत की तरफ से इसीलिए खेल सका क्योंकि इसके लिए मैनें 8 साल की उम्र से ही तैयारी शुरु कर दी थी। अब अवीवा अर्ली स्टार्टर्स इनिशिएटिव की मदद से मैं बच्चों के करियर को अर्ली स्टार्ट देना और उनके सपनों को साकार करना चाहता हूँ।

अर्ली स्टार्टर्स इनिशिएटिव अवीवा के अवॉर्ड विनर कैंपेन ‘व्हाट्स योर बिग प्लान’ को आगे बढ़ाएगी। अवीवा इंडिया की तरफ से 20 बच्चों को एक दिन के लिए अपने ड्रीम प्रोफेशन को जीनें का अवसर प्रदान किया जाएगा।

अवीवा लाइफ इंश्योरेंस के सीडीओ महेश मिश्रा नें इस अवसर पर कहा कहा कि अवीवा इंडिया बच्चों के सपनों को साकार करनें में मदद के लिए प्रतिबद्ध है। हमारा ‘व्हाट्स योर बिग प्लान’ कैंपेन इन सपनों को समझनें में बेहद सफल रहा था। अब अपने अवीवा अर्ली स्टार्टर्स इनिशिएटिव के माध्यम से हम बच्चों को उनके सपनो में जीनें के लिए सक्षम बनाना चाहते हैं। सचिन युवा भारतीयों के प्रेरणास्त्रोत है और हमें आशा है कि इस पहल से देश के वंचित युवाओं को प्रेरणा मिलेगी।