गुजरात में आरक्षण की 'आग' भड़की, स्कूल-कालेज बंद

गुजरात में आरक्षण की 'आग' भड़की, स्कूल-कालेज बंद

हार्दिक पटेल ने किया गुजरात बंद का एलान; इंटरनेट सेवा पर पाबंदी

अहमदाबाद : पटेल समुदाय को ओबीसी आरक्षण दिलाने की मुहिम चला रहे हार्दिक पटेल को गुजरात पुलिस की ओर से मंगलवार रात हिरासत में लिए जाने के बाद राज्‍य के कई शहरों में हिंसा भड़क उठी और हालात तनावपूर्ण हो गए। हालांकि, बाद में उन्‍हें रिहा कर दिया गया। हिंसा को देखते हुए सरकार ने बुधवार को राज्य के सभी स्कूल-कालेजों को बंद रखने का आदेश दिया है। आरक्षण की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे पटेल समुदाय के नेता हार्दिक पटेल ने बुधवार को गुजरात बंद का आह्वान किया है। गुजरात में हालात अभी तनावपूर्ण मगर नियंत्रण में है। हालांकि, बुधवार सुबह से किसी जगह से हिंसा की खबरें नहीं आई हैं। गुजरात में बंद को देखते हुए सीएम आनंदीबेन पटेल ने शांति की अपील की है।

हार्दिक पटेल को मंगलवार शाम पहले हिरासत में लेने और फिर रिहा किए जाने के बाद राज्य के कई इलाकों में मंगलवार रात हिंसा की खबरें मिलीं। हार्दिक पटेल के समर्थकों ने कई जगह तोड़-फोड़ और आगजनी की। गुजरात के कई शहरों में भड़की इस हिंसा में 50 से अधिक बसें खाक हो गईं और काफी तोड़फोड़ किया गया।

इस बीच, तनाव से निपटने के लिए अहमदाबाद में सेना बुलाई गई है। ऐसा 13 साल बाद हो रहा है, जब शहर में सेना की मदद लेनी पड़ रही है। भीड़ जमा न हो पाए, इसलिए अहमदाबाद और कई शहरों में इंटरनेट सर्विस पर रोक लगा दी गई है। सोशल मीडिया के जरिए फैलाए जाने वाली अफवाहों पर भी रोक लगाने की कोशिश है। गुजरात में ज्‍यादातर जगहों पर इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई हैं।

सूरत, अहमदाबाद, वडोदरा, मेहसाणा, राजकोट में हिंसा की खबरें आई। मेहसाना के कलोल में दोबारा कर्फ्यू लगाया गया है। महेसाणा के बाद सूरत के कुछ हिस्सों और उत्तरी गुजरात के तीन कस्बों में कर्फ्यू में भी लगाया गया। राजकोट में सभी कालेज बंद हैं और बसें नहीं चल रहीं हैं। हिंसा की वजह से आज सूरत में डायमंड मार्केट बंद रहेंगे। इस बीच, केंद्र सरकार ने हालात को काबू में करने के लिए अतिरिक्‍त पुलिस बल भेजे हैं। आरपीएफ की 16 कंपनियां गुजरात भेजी गई हैं।

पटेल समुदाय के लोगों के आरक्षण की मांग को लेकर प्रदर्शन के बाद भड़की हिंसा के बाद पूरे गुजरात में हिंसक घटनाओं को देखते हुए महेसाणा शहर तथा जिले के उंझा और विष्णानगर कस्बों में कर्फ्यू लगा दिया गया है। महेसाणा के जिला अधिकारी लोचन सेहरा ने बताया कि महेसाणा जिले में हिंसा की घटनाओं के बाद महेसाणा शहर तथा जिले के उंझा और विष्णानगर कस्बों में कर्फ्यू लगाया गया है। यह जिला यहां से 90 किलोमीटर की दूरी पर है। कलेक्टर ने कहा कि जिला प्रशासन ने स्थिति पर काबू के लिए अर्धसैनिक बलों को बुलाया है।

पटेल समुदाय के लिए ओबीसी आरक्षण मांग को लेकर चल रहे आंदोलन के 22 वर्षीय नेता हार्दिक पटेल ने बुधवार को गुजरात बंद का आह्वान किया है। हार्दिक ने अपने समुदाय के लोगों से अपील की है कि वे शांति बनाए रखें। उनको मंगलवार रात कुछ देर के लिए हिरासत में लिए जाने के बाद हिंसा भड़क गई थी। उन्होंने कहा कि मैं शांति बनाए रखने की अपील करता हूं। मैं बुधवार को गुजरात बंद का आह्वान करता हूं।

वहीं, मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल ने राज्य में शांति की अपील की है। उन्होंने कहा कि गुजरात के लोगों से मेरा निवेदन है कि शांति रखें। सलामती का माहौल बनाएं। सरकारी प्रॉपर्टी हमारी प्रॉपर्टी है। कोई भी लॉ एंड ऑर्डर न तोड़े। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने गुजरात के हालात को लेकर मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल से बात की है। उन्होंने मदद का भरोसा दिलाया है। जानकारी के मुताबिक, गृह मंत्रालय दिल्ली से गुजरात के हालात पर नजर रखे हुए है। वहीं, अहमदाबाद के पुलिस कमिश्नर ने कहा कि जिस तरह पूरे शहर में घटनाओं को अंजाम दिया गया है, उससे पता चलता है कि इसकी तैयारी पहले से ही थी। हम जांच कर रहे हैं।

India