धर्म आधारित जनगणना में मुसलमानों का बढ़ा अनुपात

धर्म आधारित जनगणना में मुसलमानों का बढ़ा अनुपात

नई दिल्ली। केन्द्र सरकार ने 2011 की धर्म के आधार पर जनगणना के आंकड़े मंगलवार को जारी कर दिए। आंकड़ों के मुताबिक देश में 96 करोड़ 63 लाख हिंदू और 17 करोड़ 22 लाख मुस्लिम हैं। कुल जनसंख्या में हिंदूओं का अनुपात 0.7 प्रतिशत घटा है, मुस्लिमों का अनुपात 0.8 प्रतिशत बढ़ा है।

आंकड़ों के मुताबिक देश की आबादी 2001 से 2011 के बीच 17.7 फीसदी बढ़ी। अलग-अलग संप्रदायों की बात की जाए तो हिंदुओं की आबादी 16.8 फीसदी, मुस्लिमों की 24.6 फीसदी, ईसाइयों की 15.5 फीसदी, सिखों की 8.4 फीसदी, बौद्धों की 6.1 फीसदी तथा जैनियों की 5.4 फीसदी आबादी बढ़ी।

आंकड़ों के मुताबिक 2001 से 2011 के बीच कुल आबादी में हिंदुओं की हिस्सेदारी 0.7 फीसदी, सिखों की आबादी 0.2 फीसदी और बौद्धों की 0.1 फीसदी घटी है जबकि मुस्लिमों की हिस्सेदारी में 0.8 फीसदी वृद्धि दर्ज की गई है। ईसाइयों और जैनियों की कुल जनसंख्या में हिस्सेदारी में कोई उल्लेखनीय परिवर्तन नहीं दर्ज किया गया।

आंकड़ों के मुताबिक इस समय देश में हिंदुओं की कुल आबादी 96.63 करोड़ यानी 79.8 फीसदी, मुस्लिमों की 17.22 करोड़ यानी 14.2 फीसदी, ईसाइयों की 2.78 करोड़ यानी 2.3 फीसदी, सिखों की 2.08 करोड़ यानी 1.7 फीसदी, बौद्धों की 84 लाख यानी 0.7 फीसदी तथा जैनों की 45 लाख यानी 0.4 फीसदी है।

India