एशिया का भविष्य उज्जवल देखना चाहता है भारत: मोदी

एशिया का भविष्य उज्जवल देखना चाहता है भारत: मोदी

मसदर: सपनों के शहर मसदर में पीएम नरेंद्र मोदी ने भारत को संभावनाओं से भरा देश बताया। उन्होंने कहा कि भारत में विकास की असीम संभावनाएं है। भारत तेजी से उभरती हुई दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। उन्होंने निवेशकों को भारत में निवेश करने के लिए प्रोत्साहित किया।

पीएम मोदी ने यूएई के मसदर में उद्योगपतियों को संबोधित करते हुए कहा कि 21 वीं सदी एशिया की सदी है। भारत के बुनियादी ढांचे में असीम संभावनाएं है। भारत संभावनाओं से भरा हुआ देश है। भारत एक बाजार नहीं है बल्कि एक बड़ी ताकत है। उन्होंने कहा कि मुझे कुछ कठिनाइंया भारत में विरासत में मिली है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि वह भारत में आर्थिक वृद्धि के लिए आधारभूत संरचना के निर्माण में यूएई से निवेश चाहते हैं।  भारतीय श्रमिकों की समस्याएं सुलझाने के लिए वाणिज्य मंत्री को यूएई भेजूंगा ।

उन्होंने कहा कि भारत और यूएई के जुड़ने से सपने पूरे होंगे। एशिया का भविष्य मैं उज्जवल देखना चाहता हूं। जिसमें यूएई की भूमिका अहम होगी। 2022 तक भारत में कम लागत वाले घर बनाएंगे। रेलवे में 100 फीसदी एफडीआई मंजूर किया। सात साल में 5 करोड़ सस्ते मकान बनाने का लक्ष्य रखा गया है। भारत के टूरिज्म क्षेत्र में अपार संभावनाएं है।

संयुक्त अरब अमीरात में आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का दूसरा दिन है। वह हाईटेक सिटी के नाम से मशहूर जीरो-कार्बन सिटी मसदर में पहुंचे।  पीएम मोदी ने शहर का एक दौरा किया। उन्होंने यहां पर टच स्क्रीन पर अपने सिग्नेचर भी किए। उन्होंने लिखा- विज्ञान जीवन है।

नरेंद्र मोदी दो दिवसीय आधिकारिक दौरे पर कल संयुक्त अरब अमीरात पहुंचे थे। हवाई अड्डे पर उनका स्वागत अबु धाबी के शहजादे शेख मोहम्मद बिन जायेद अल नहयान ने किया। उन्होंने प्रोटोकॉल तोड़कर उनका स्वागत किया। अपने इस स्वागत से खुश मोदी ने ट्वीट किया कि मैं हिज हाईनेस शेख मोहम्मद बिन जायद अल नहयान के हवाईअड्डे आकर मेरा स्वागत करने के विनम्र व्यवहार की दिल से तारीफ करता हूं।