राहुल-प्रियंका से कभी नहीं हुई मुलाक़ात: ललित मोदी

राहुल-प्रियंका से कभी नहीं हुई मुलाक़ात: ललित मोदी

नई दिल्ली: आईपीएल के पूर्व प्रमुख ललित मोदी ने कहा है कि उन्हें प्रवर्तन निदेशालय की तरफ से कोई सम्मन नहीं मिला है। उन्होंने पैसों में हेरफेर के आरोपों को बकवास बताया है। ललित मोदी ने यह भी कहा कि मेरी जान को अंडरवर्ल्ड से खतरा है। मैं अपनी सुरक्षा को खतरे में नहीं डाल सकता।

एक साक्षात्कार में ललित मोदी ने पहले कही बात से यू-टर्न लेते हुए कहा कि उनकी राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वड्रा से कभी कोई मुलाकात नहीं हुई। ललित मोदी ने जुलाई में ट्वीट किया था कि आईपीएल कमिश्नर रहने के दौरान उन्होंने राहुल गांधी और रॉबर्ट वड्रा को लाभ पहुंचाया था।

ललित मोदी ने कहा, 'यह पूरा विवाद मेरे ईद-गिर्द चल रहा है और मेरे चारों ओर एक बड़ा अखाड़ा है। मेरे खिलाफ कोई मामला नहीं है। मुझे प्रवर्तन निदेशालय से आज की तारीख तक कोई सम्मन नहीं मिला है। मुझे बताया गया कि सम्मन ईमेल से भेजा गया है लेकिन मुझे तो कोई मेल नहीं मिला।'

मोदी ने कहा, 'यह आरोप कि मैंने वर्ल्ड स्पोर्ट ग्रुप (डब्ल्यूएसजी) से पैसा लिया था, बेकार की बात है। यह डील सोनी और डब्ल्यूएसजी के बीच हुई थी। मेरा इससे कोई लेना-देना नहीं था। इन लोगों ने मुझे परेशान करने के लिए एक बेकार बात गढ़ ली है।'

उन्होंने कहा, 'मुझे इंटरपोल से पत्र मिला है। इसमें कहा गया है कि मेरे खिलाफ कोई रेड कार्नर नोटिस नहीं जारी किया जाएगा और मुझे अपनी बात रखने दी जाएगी।' उन्होंने कहा कि पिछले 20 दिनों से संसद में जो कुछ हो रहा है, उससे साफ है कि पूरा मामला राजनीति से प्रेरित है।

मोदी से पूछा गया कि क्या वह राहुल और प्रियंका से मिले थे। कुछ ऐसा ही उन्होंने ट्वीट किया था। जवाब में मोदी ने कहा, 'मैंने कभी नहीं कहा कि मैं राहुल या प्रियंका से मिला था।'

उनसे पूछा गया कि वह भारत आकर अपनी बात क्यों नहीं रखते। मोदी ने जवाब में कहा, 'मेरी जान को अंडरवर्ल्ड से खतरा है। मैं अपनी सुरक्षा को खतरे में नहीं डाल सकता।'

India