पीएम मोदी से मिलना चाहते हैं गूगल के नए सीईओ सुंदर पिचाई

पीएम मोदी से मिलना चाहते हैं गूगल के नए सीईओ सुंदर पिचाई

न्यूयार्क : भारत में जन्मे एवं गूगल के नए सीईओ के तौर पर नामित सुंदर पिचाई ने बधाई देने पर भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद कहा और उम्मीद जताई कि उन्हें जल्द ही मोदी से मिलने का अवसर मिलेगा।

मोदी ने प्रौद्योगिकी के क्षेत्र की पुनगर्ठित दिग्गज कंपनी के सीईओ के तौर पर नामित होने पर पिचाई (43) को ट्विटर पर बधाई दी थी। पिचई ने इसके जवाब में कहा कि वह शुभकामनाओं के लिए मोदी का शुक्रगुजार हैं और वह उम्मीद करते हैं कि उनसे मिलने का जल्द ही अवसर मिलेगा। मोदी ने पिचाई को नया सीईओ बनाए जाने की घोषणा के बाद ट्वीट किया था, सुंदर पिचई को बधाई। गूगल में नई भूमिका निभाने के लिए मेरी शुभकामनाएं आपके साथ हैं।

गौरतलब है कि पिचई की नियुक्ति की घोषणा ऐसे समय पर की गई है जब मोदी का केवल करीब एक माह बाद सितंबर में सिलिकॉन वैली की यात्रा का कार्यक्रम है और इस दौरान उनके यहां प्रौद्योगिकी क्षेत्र की विभिन्न दिग्गज कंपनियों के प्रमुखों से मिलने की उम्मीद है। सिलिकॉन वेली की प्रमुख हस्तियों ने पदोन्नति के लिए पिचई को माइक्रो ब्लॉगिंग साइट पर बधाई दी। पिचई ने 2004 में गूगल के लिए काम करना शुरू किया था। पिचई ने माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्य नडेला, एप्पल के प्रमुख टिम कुक और बधाई देने वाले अन्य लोगों को धन्यवाद दिया। गूगल के कार्यकारी अध्यक्ष एरिक श्मित ने ट्विटर पर कहा कि सुंदर की सोच और उनकी प्रतिभा को लेकर सचमुच उत्साहित हूं. वह एक महान सीईओ बनने जा रहे हैं। पिचई श्मित और सह संस्थापक लैरी पेज के बाद कंपनी के तीसरे मुख्य कार्यकारी बनेंगे।

गूगल मैप्स के सह संस्थापक, फेसबुक के पूर्व सीटीओ और क्विप के सह संस्थापक ब्रेट टेलर ने भी पिचई को ट्विटर पर बधाई दी। पिचई गूगल के पहले ऐसे सीईओ होंगे जो अश्वेत हैं। एक चौंकाने वाली पुनर्गठन कवायद में पेज ने नई मूल कंपनी अल्फाबेट इंक के गठन की घोषणा की जो शेयर बाजार में गूगल का स्थान लेगी और गूगल के सभी शेयर स्वत: ही अल्फाबेट के शेयरों में परिवर्तित हो जाएंगे और इन शेयरों के अधिकार भी जस के तस रहेंगे। गूगल, अल्फाबेट की पूर्ण स्वामित्व वाली अनुषंगी बन जाएगी और अल्फाबेट के सीईओ पेज एवं अध्यक्ष सर्गे ब्रिन होंगे। पिचई इससे पहले गूगल के इंटरनेट कारोबार के उत्पाद एवं अभियांत्रिकी के प्रभारी थे। वह अब गूगल के सीईओ होंगे।