योगेंद्र यादव की पुलिस ने की पिटाई, हिरासत में लिया

योगेंद्र यादव की पुलिस ने की पिटाई, हिरासत में लिया

नई दिल्‍ली : द‌िल्‍ली के जंतर-मंतर पर किसानों की मांग को लेकर धरने पर बैठे स्वराज अभियान के संस्‍थापक सदस्‍य योगेंद्र यादव और अन्य लोगों को दिल्‍ली पुलिस ने देर रात हिरासत में ले लिया। जानकारी के अनुसार, भूमि अधिग्रहण बिल के खिलाफ किसानों के साथ प्रदर्शन कर रहे स्वराज अभियान के कई सदस्य और योगेंद्र यादव को सारी रात पुलिस हिरासत में गुजारनी पड़ी।

योगेंद्र यादव ने आरोप लगाया ‌है कि हम शंति पूर्वक जंतर-मंतर पर बैठे हुए तभी संसद मार्ग पुलिस थाने की पुलिस ने आकर हम लोगों को गिरफ्तार कर लिया। योगेंद्र ने दिल्‍ली पुलिस पर आरोप लगाया है कि यहां तक की मुझे घसीटा, पीटा और मारा भी गया। जंतर-मंतर पर पुलिस ने जबरदस्ती मुझे घसीटते हुए पुलिस की वेन में डाल दिया। अभी तक मुझे यह नहीं पता चल पाया है कि मेरा अपराध क्या है? सूत्रों के अनुसार, पुलिस और योगेंद्र यादव के बीच धक्‍का मुक्‍की भी हुई। पुलिस धक्‍का देकर योगेंद्र को लेकर गई।  

दूसरी ओर, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट करके दिल्ली पुलिस की निंदा की है। उन्होंने कहा कि दिल्ली पुलिस ने योगेंद्र यादव जी के साथ जिस तरह का बर्ताव किया मैं उसकी कड़े शब्दों में निंदा करता हूं। वे शांतिपूर्वक प्रदर्शन कर रहे थे। यह उनका मौलिक अधिकार है।

वहीं इस मामले में प्रशांत भूषण ने कहा कि जब उन्होंने थाने में योगेंद्र सहित कई लोगों को हिरासत में लेने की वजह पूछी तो थाने से बाहर कर दिया गया। योगेंद्र यादव के नेतृत्व में जंतर-मंतर पर किसान रेस कोर्स इलाके में किसान स्मारक बनाने की मांग को लेकर धरने पर बैठे थे। पुलिस का कहना है कि जंतर-मंतर पर 10 अगस्त की शाम तक धरने की इजाजत थी, पीएम निवास तक किसानों के मार्च और शांति भंग होने की आशंका को देखते हुए प्रदर्शनकारी हिरासत में लिए गए।

India