दिल्ली में मुलायम से मिले शिया और सुन्नी ओलेमा

दिल्ली में मुलायम से मिले शिया और सुन्नी ओलेमा

वक़्फ़ बोर्ड मामले का हल निकालने का कल्बे जवाद से किया वादा, 14 को लखनऊ में फिर मिलेंगे 

लखनऊ :शिया वक्फ बोर्ड में जारी भ्रष्टाचार, अल्पसंख्यकों के अधिकारांे से अन्देखी शिया समुदाय पर बढ़ते अत्याचार और वक्फ बोर्ड की सीबीआई जांच की मांग को लेकर आज शिया व सुन्नी उलमा ने मुलायम सिंह यादव से मुलाकात की  । 

मुलायम सिंह यादव ने आलिमों को आश्वासन दिया कि वह जल्द ही मौलाना कल्बे जव्वाद की मांगों को पूरा करेंगे ।मुलायम सिंह यादव ने मौलाना कल्बे जव्वाद से कहा कि 14 अगस्त को लखनऊ में  हम आपसे मुलाकात करेंगे और इन सभी मसाएल का हल निकालेंगे ।मुलायम सिंह यादव ने कहा कि महत्वपूर्ण अधीकारयों की उपस्थिति में बैठक होगी ताकि मुद्दों  पर विचार होने के बाद हल निकाला जा सके ।मुलायम सिंह यादव ने कहा कि वक्फ बोर्ड की सीबीआई जांच की मांग बिल्कुल सही उचित है और सीबीआई जांच होनी चाहिए इसलिए 14 अगस्त को मुलाकात के समय सीबीआई जांच के लिए पत्र लिखे जाने की बात कही। इस संबंध में अखिलेश यादव से फोन पर बात की गयी और 14 अगस्त को मौलाना कल्बे जव्वाद नकवी से मुलाकात के समय सभी मसाएल पर बात होगी और मसाएल को हल करने की पूरी कोशिश की जाईगी। मुलायम सिंह यादव ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से मौलाना कल्बे जव्वाद नकवी की बात भी कराई और मसाएल को जल्द हल करने के लिए कहा।

मौलाना क्लबे जवाद नकवी ने 27 जुलाई को पुलिस द्वारा बच्चों, बूढ़ों और महिलाओं पर किए गए लाठीचार्ज के बारे में बात की और प्रशासन की ओर से किये  गयग पक्षपात और क्रूर व्यवहार की बात रखी।  मौलाना ने कहा कि अभी तक मामूली धाराओं में गिरफ्तार किए गए युवकों को रिहा नहीं किया गया है और मचलकों की जगह बड़ी बड़ी जमानतों की शर्तें रखते गई हैं जिस पर मुलायम सिंह ने कहा कि हम इस संबंध में अधीकारयों से बात करेंगे वास्तव मै पुलिस का रवैया क्रूर था ।मौलाना कल्बे जव्वाद नकवी ने कहा मलाीम सिंह यादव ने मसाएल पर गंभीरता से विचार किया और हल करने का आश्वासन दिया है अब पूरा मामला 14 अगस्त की बैठक पर टिका हे हमें उम्मीद है कि 14 अगस्त की बैठक में जरूर मसाएल का हल निकाला जाएगा।

मुलाकात के लिए सहारनपुर, मुजफ्फर नगर, मेरठ, अमरोहा, गाजियाबाद, कानपुर, सीतापुर, हरदोई, शाहजहान , जौनपुर, मुजफ्फरपुर बिहार, औरंगाबाद, फर्रुखाबाद, हरियाणा, लखनऊ, बाराबंकी, पटना और अन्य क्षेत्रों से 200 से अधिक प्रतिनिधि उलमा देहली पहुँचे थे । मुलाकात के समय मौलाना कल्बे जव्वाद नकवी के साथ सुन्नी उलेमा में विशेष रूप से हाजी मोहम्मद सलीस, हसनेन बकाई सज्जादा नशीन, जावेद चिश्ती सज्जादा नशीन, मोहम्मद राशिद सज्जादा नशीन, दाग नियाजी मौजूद रहे । शिया उलमा में मौलाना मोहसिन तक्वी मौलाना अली अब्बास खान, मौलाना तसनीम महदी, मौलाना रजा हुसैन, मौलाना इफ्तिखार हुसैन , मौलाना तनवीर अब्बास, मौलाना शबाहत हुसैन, मौलाना आबिद अब्बास, मौलाना कल्बे हुसैन, मौलाना कासिम अब्बास, मौलाना सरकार हुसैन, मौलाना तालिब, मौलाना अमीर हैदर जानसठी मौलाना राजा हुसैन, मौलाना हामिद हुसैन, मौलाना अलमदार हुसैन, मौलाना नवाजिश हुसैन, मौलाना नसीम अब्बास, मौलाना आरिफ हुसैन, बहादुर अब्बास, रईस अब्बास, शहजाद हुसैन मौजूद रहे ।

Lucknow, Uttar Pradesh, India