अभिभावक, शिक्षक के समन्वय से ही उच्च शिक्षा में गुणवत्ता सम्भव: डा0 सलिल चन्द्रा

अभिभावक, शिक्षक के समन्वय से ही उच्च शिक्षा में गुणवत्ता सम्भव: डा0 सलिल चन्द्रा

लखनऊ: छात्र-छात्राओं के जीवन एवं करियर निर्माण में अभिभावक एवं शिक्षकों दोनो योगदान बहुत आवश्यक होता है। अध्ययन के दौरान दोनो के बीच परस्पर संवाद छात्र-छात्राओं को भटकाव से बचाते है । जूनियर एजुकेशन में तो ऐसा देखने को अकसर मिलता है किन्तु उच्च शिक्षा में ऐसी कोशिशें कम देखने को कम ही मिलता है। ये विचार डा0 सलिल चन्द्रा, प्रभारी, वाणिज्य संकाय ने श्री जय नारायण महाविद्यालय के एम0 काम0 द्वारा आयोजित इंडक्शन मीट 2015 में व्यक्त किया।

एम0 काम0 प्योर व अपलाइड इकनामिक्स द्वारा श्री जे0एन0पी0जी0 के स्मार्ट क्लास में इंडक्शन मीट 2015 का आयोजन किया गया। जिसमें कालेज के वर्तमान छात्र-छात्राओं ने भाग लिया। 

इस अवसर पर प्राचार्य डाॅ0एस0डी0शर्मा एम0 काम0 प्योर व अपलाइड इकनामिक्स छात्रांे से कहा कि आप सभी वर्तमाान छात्रों के सम्पर्क में रह कर बेहतर तैयारी कर सकते है। 

कार्यक्रम में डाॅ0 के0के0 शुक्ला , डाॅ0 अरूण मि़श्रा , डाॅ0 ऐ0के0 अवस्थी, डाॅ0 नागेश्वर पाण्डेय,  डाॅ0 अजय शुक्ला, डाॅ0 प्रशान्त पाण्डेय, डाॅ0 विजय मि़श्रा ,डाॅ0 आर डी0 मि़श्रा , डाॅ0 उदिता आर, डी0 मि़श्रा व डाॅ0 एस0के0 चैहान उपस्थित रहे। 

Lucknow, Uttar Pradesh, India