लोकतंत्र का गला घोंट रही है मोदी सरकार: निर्मल खत्री

लोकतंत्र का गला घोंट रही है मोदी सरकार: निर्मल खत्री

सांसदों के निलम्बन पर बिखरे कांग्रेसी, भाजपा कार्यालय का किया घेराव  

लखनऊ: 25 कांग्रेस सांसदो के निलम्बन से बिफरे कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भाजपा दफ्तर का घेराव किया और मोदी सरकार के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन किया।प्रदेश अध्यक्ष निर्मल खत्री और विधायक कैण्ट डा0 रीता बहुगुणा जोशी के नेतृत्व में हजारों कार्यकर्ताओं ने जीपीओ पहुँच कर धरना दिया और पुलिस की कड़ी घेराबन्दी को तोड़ते हुए भाजपा दफ्तर का घेराव कर मोदी सरकार की तानाशाही के खिलाफ प्रदर्शन किया। इस दौरान कांग्रेेस कार्यकर्ताओं से पुलिस की झड़प हुई। लेकिन कार्यकर्ताओं ने जोश के आगे पुलिस प्रशासन बैकफुट पर नजर आया। जीपीओ पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष निर्मल खत्री ने कहाकि कांग्रेस सांसदो का निलम्बन लोकतंत्र का काला अध्याय है। मोदी सरकार तानाशाही पर उतर आयी है। कांग्रेस की आवाज आम जनता की आवाज है इसे कोई दबा नहीं सकता। वही पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व विधायक कैन्ट डा0 रीता बहुगुणा जोशी ने कहाकि मोदी सरकार लोकतंत्र का गला घोटना चाहती है। यह सरकार अपने जनविरोधी नीतियों को जबरन देश पर थोपना चाहती है, जिसका कांग्रेस पुरजोर विरोध करती है। कांग्रेस सांसदो का निलम्ब इस बात का प्रभाव है कि मोदी सरकार को लोकतंत्र और आम जनता से कोई लेना देना नहीं है। वही हिटलरशाही पर उतारू है। वरिष्ठ कांग्रेस नेता अमीर हैदर ने कहाकि मोदी सरकार अपने काले कारनामों पर पर्दा डालने के लिए विपक्ष की आवाजा दबाना चाहता है, लेकिन कांग्रेस कार्यकर्ता मोदी सरकार के लोकतंत्र विरोधी मंसूबों को कामयाब नहीं होने देगी। यह जानकारी देते हुए शहर कांग्रेस कमेटी के मीडिया प्रभारी इं0 अन्वेष कुमार सिंह ने बताया कि विरोध प्रदर्शन में शहर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष बोध लाल शुक्ला, गौरव चैधरी, नीलम तिवारी, के.के. शुक्ल, राजेन्द्र प्रसाद वर्मा, जे.पी. मिश्र, नसीम खान, के.डी. शुक्ल, हरिओम अवस्थी, ज्ञान प्रकाश राज, बच्चू लाल गुप्ता, शबनम पाण्डेय, मुकेश, मनवानी, सहित हजारों कार्यकर्ता उपस्थित रहे। 

Lucknow, Uttar Pradesh, India