मुठभेड़ खत्‍म,  तीनों आतंकियों समेत 11 की मौत

मुठभेड़ खत्‍म, तीनों आतंकियों समेत 11 की मौत

गुरदासपुर: पंजाब के गुरदासपुर में आतंकियों के साथ सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ खत्‍म हो चुकी है। जानकारी के अनुसार सभी 3 आतंकी मारे जा चुके हैं। इस हमले में तीनों आतंकियों समेत कुल 11 लोगों की मौत हो गई।

पुलिस सूत्रों ने मामले की जानकारी दी। सूत्रों ने बताया कि पंजाब पुलिस द्वारा की गई जवाबी कार्रवाई में तीन आतंकवादी मार गिराए गए। वहीं एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी, दो होमगार्ड और तीन नागरिकों सहित छह लोगों की इस हमले में मौत हो गई।

एक अधिकारी ने कहा कि इलाके को पूरी तरह नियंत्रण में लिया जा रहा है। गुरदासपुर के पुलिस उपायुक्त अभिनव त्रिखा ने कहा, 'अब तलाशी अभियान शुरू कर दिया गया है।'

पुलिस अधिकारियों ने कहा कि पंजाब पुलिस और अन्य सुरक्षा एजेंसियों द्वारा चलाए जा रहे तलाशी अभियान के बाद ही इस हमले में मारे गए आतंकवादियों के बारे में सही जानकारी मिल सकेगी। राज्य पुलिस के विशेष बल ने आतंकवादियों के सफाए का जैसे ही संकेत दिया, पंजाब के पुलिस महानिदेशक सुमेध सिह सैनी सहित वरिष्ठ पुलिस अधिकारी पुलिस थाने के अंदर गए।

इस आतंकी हमले में एसपी (डिटेक्टिव) बलजीत सिंह भी शहीद हो गए। आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन के दौरान उनके सिर में गोली लगी थी। वह ऑपरेशन की अगुवाई कर रहे थे। सुरक्षाबलों ने सभी तीन आतंकियों को मार गिराया। पहले अंदेशा था कि कुल 4 आतंकियों ने हमले को अंजाम दिया है।

उधर इस हमले का असर भारत और पाकिस्‍तान के क्रिकेट संबंधों पर भी पड़ता दिख रहा है। बीसीसीआई के सचिव अनुराग ठाकुर ने कहा कि आतंक और क्रिकेट दोनों एक साथ नहीं चल सकते हैं। गौरतलब है कि दिसंबर में भारत और पाकिस्‍तान के बीच क्रिकेट सीरीज होनी थी लेकिन अब वो सीरीज भी खटाई में पड़ गई है।

इस हमले को लेकर पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि ये आतंकी पंजाब से नहीं आए, वे बॉर्डर से आए हैं। बॉर्डर को सील करने की जिम्मेदारी केंद्र की है।

गौरतलब है कि गुरदासपुर में सेना की वर्दी में आए आतंकियों ने एक बस और उसके बाद पुलिस थाने पर हमला कर दिया, जिसमें दो पुलिसकर्मियों और तीन स्थानीय नागरिकों की मौत हो गई। इसके अलावा कई अन्य लोग घायल हुए, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। सुबह आईजी बॉर्डर रेंज ने कहा है कि थाने में कोई बंधक नहीं है और तीन से चार आतंकी थाने के पास की इमारत में छिपे हो सकते हैं।

इस हमले को लेकर पीएम मोदी के नेतृत्व में केंद्रीय मंत्रियों की बैठक हुई। सरकार इस हमले को लेकर संसद में बयान दे सकती है।

राजनाथ सिंह ने पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल से बात की। गुरदासपुर आतंकी हमले के बाद राजनाथ ने सुरक्षा बलों से भारत-पाकिस्तान सीमा पर चौकसी बढ़ाने को कहा है।

India