सिपाही का शोषण करने से बाज आये आईपीएस: सुबोध यादव

सिपाही का शोषण करने से बाज आये आईपीएस: सुबोध यादव

इटावा। महोबा में एसएसपी द्वारा एक सिपाही को बीमार माँ के इलाज के लिए अवकाश देने के बजाय बर्खास्त करने के मामले को उत्तर प्रदेश पुलिस एसोसिएशन ने गंभीरता से लिया है और एस एस पी के खिलाफ कार्यवाही करने के लिए राज्यपाल और मुख्यमंत्री को पत्र लिखा है।

उत्तर प्रदेश पुलिस एसोसिएशन के अध्यक्ष सुबोध यादव ने बताया की महोबा की कोतवाली में तैनात सिपाही इनामुल अहमद की माँ की हालत बहुत ख़राब थी और वो एसएसपी के पास छुट्टी लेने गया तो एसएसपी ने माँ के बीमार होने के दस्ताबेज प्रस्तुत करने को कहा जिसको सिपाही ने फैक्स  के जरिये मंगा लिए जब सिपाही सभी कागजात लेकर एस एस पी के पास पहुंचा तो सिपाही को एसएसपी ने अवकाश देने से मना करते हुए उसकी जगह उसकी माँ की देखभाल को दूसरा सिपाही भेजने को बात कही जिस पर सिपाही ने कहा की मेरी माँ बीमार है तो देखभाल और सेवा हम करेंगे कोई दूसरा नहीं।

इसके बाद सिपाही जिलाधिकारी से मिला और अपनी परेशानी बताई तो जिलाधिकारी ने उसे अपर पुलिस अधीक्षक के पास भेज दिया लेकिन अपर पुलिस अधीक्षक के मौजूद न होने की बजह से सिपाही जब दोबारा  एसएसपी के पास गया तो अवकाश देने के बजाय एसएसपी ने उसे बर्खास्तगी का आदेश दे दिया जो न्याय विरूद्ध है।

पुलिस एसोसिएशन के अध्यक्ष सुबोध यादव ने कहा कहा की किसी भी पुलिस कर्मी पर अन्याय बर्दाश्त नहीं किया जायेगा और एसएसपी के खिलाफ कार्यवाही के लिए राज्यपाल व मुख्यमंत्री को डाक व मेल से पत्र भेज दिया गया है। उन्होंने कहा की अगर एस एस पी के खिलाफ कार्यवाही नहीं हुई तो एसोसिएशन धरना प्रदर्शन को बाध्य होगी।

Uttar Pradesh, India