गडकरी ने राहुल को दी कोर्ट ले जाने की धमकी

गडकरी ने राहुल को दी कोर्ट ले जाने की धमकी

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से उनके उस बयान पर माफ़ी मांगने को कहा है जिसमें राहुल गांधी ने सुषमा स्वराज पर आपराधिक कृत्य में शामिल होने का आरोप लगाया है।

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के अनुसार, 'कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने  विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के लिए 'क्रिमिनल' शब्द का इस्तेमाल किया है, जो बहुत ग़लत है। उन्होंने न सिर्फ़ देश की विदेश मंत्री बल्कि पूरे देश का अपमान किया है।'

गुरुवार को राहुल गांधी ने अपनी पार्टी द्वारा बीजेपी नेताओं के घोटालों में शामिल होने के मुद्दे पर संसद की कार्यवाही न चलने देने के फैसले को सही ठहराते हुए कहा था,  'हमने जो कहा है वो ये कि बिना इस्तीफ़ा के संसद में कोई बहस नहीं हो सकती है, सुषमा स्वराज ने ललित मोदी की मदद कर अपराध किया है, ललित मोदी एक भगोड़ा है।'  

सुषमा स्वराज पर दागी पूर्व आईपीएल कमिश्नर ललित मोदी को ब्रिटेन में ट्रैवल डॉक्यूमेंट्स दिलाने में मदद करने का आरोप है। ललित मोदी भारत में आईपीएल में भ्रष्टाचार करने के आरोप में  ईडी द्वारा वांछित है।

सरकार बार-बार कह रही है कि वो इस मुद्दे पर संसद में बातचीत करने को तैयार है लेकिन वो सुषमा स्वराज और वसुंधरा राजे की इस ललित गेट मामले में इस्तीफ़ा के लिए तैयार नहीं है। इसके अलावा विपक्ष मध्यप्रदेश के मुख़्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से व्यापमं मामले में इस्तीफ़ा मांग रही है।  

राहुल गांधी ललितगेट मुद्दे पर सीधा पीएम मोदी पर हमला कर चुके हैं उन्होंने संसद परिसर में कहा,  'हमारी प्रधानमंत्री को सलाह है कि आपकी विश्वसनीयता खत्म हो रही है, आप लोगों की तकलीफ़ों पर ध्यान दें और विवादों पर उनके सवालों का सीधा जवाब दें।'