पति के निलंबन पर नूतन को आश्चर्य नहीं

पति के निलंबन पर नूतन को आश्चर्य नहीं

लखनऊ। सोशल एक्टिविस्ट तथा आइपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर की पत्नी नूतन ठाकुर को पति के निलंबन पर कोई आश्चर्य नहीं है। उनका मानना है कि जब उत्तर प्रदेश में एक आइपीएस अधिकारी पर दुष्कर्म का झूठा मुकदमा दर्ज हो सकता है तो फिर निलंबन कोई बड़ी बात नहीं है। 

उधर अमिताभ ठाकुर ने निलंबन पर अधिक कुछ नहीं कहा, उन्होंने कहा कि मुझे यकीन है कि मेरे खिलाफ जो दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया गया है, उसके लिए मैं उचित फोरम तथा कोर्ट में सारी सच्चाई को सामने रख दूंगा। उन्होंने कहा कि मुझे भरोसा है कि मेरे सारे तथ्यों को पूरी तरह से सुना जाएगा। उन्होंने कहा कि मैंने अभी तक सरकार तथा उसके किसी भी कार्य के खिलाफ कोई टिप्पणी नहीं की है। किसी व्यक्ति विशेष के कार्य तथा उसकी संपत्तियों के खिलाफ आवाज उठाना सरकार के खिलाफ कार्य नहीं है। मैंने अभी तक की नौकरी में कोई गलत काम नहीं किया है। प्रदेश में नागरिक सुरक्षा जैसे कम महत्व वाले विभाग में भी मैंने काफी काम कर उसको नया कलेवर प्रदान किया है। अमिताभ ठाकुर ने कहा कि अक्सर जनता के साथ जुड़े मुद्दों पर आवाज उठाने के कारण मुझे तथा मेरी पत्नी को धमकियां मिलती रहती है। मेरे निलंबन से मुझे कोई आश्चर्य नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि जिस दिन मैंने समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव के खिलाफ लखनऊ के हजरतगंज कोतवाली में तहरीर दी थी, उसी दिन से मुझे आभास हो गया था कि मेरे खिलाफ विभागीय जांच होगी तथा क्रिमिनल केस भी दर्ज कराया जा सकता है। 

Lucknow, Uttar Pradesh, India