सपा राज में पुलिस रक्षक की बजाये भक्षक बन गई है: विजया राहटकर

सपा राज में पुलिस रक्षक की बजाये भक्षक बन गई है: विजया राहटकर

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्षा महिला मोर्चा विजया राहटकर ने प्रदेश कार्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता  में बाराबंकी की घटना को शर्मनाक बताते हुए महिला की सुरक्षा में नाकाम सरकार से नैतिकता के आधार पर त्याग पत्र की मांग की और कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार महिलाओं की सुरक्षा के प्रति सबसे ज्यादा नाकारा साबित हुई है इतनी बड़ी घटना हो गयी और सरकार आंखे मूदे बैठी है। दिन दहाड़े थाने में महिला को जला दिया गया और अपराधी पुलिस वालों को गिरफ्तार कर उनके प्रति कड़ी कार्यवाही करने के बजाय सिर्फ उन्हें सस्पेंड़ किया गया।

बाराबंकी में नीतू द्विवेदी के हत्याकांड पर बोलते हुए राष्ट्रीय अध्यक्षा ने कहा कि उ0प्र0 में माहिलओं के प्रति दुष्कर्म हत्या की घटनाओं का ग्राफ दिन-प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। बाराबंकी के कोठी थाने में एस0ओ0 और दरोगा द्वारा अपने पति को छुड़ाने गयी महिला नीतू द्विवेदी के संग छेड़छाड़ व दुष्कर्म करने की कोशिश करने पर पेट्रोल छिड़क कर आग लगा दी गयी इसी प्रकार एक युवती की अधजली लाश मिली और दूसरी तरफ मोहनलालगंज में 13 वर्षीया किशोरी को अगवा कर उसके साथ गैंगरेप किया गया।

उन्होंने कहा कि आज महिलाएं अपने ही घर में सुरक्षित नहीं है अपराधियों के हौसले बुलन्द है। पुलिस रक्षक की बजाये भक्षक बन गई है अगर इस तरह की घटनाओं पर कड़ी दण्डात्मक कार्रवाई नहीं की गयी तो महिला मोर्चा व्यापक आंदोलन कर इस महिला विरोधी व्यवस्था को सत्ता से उखाड़ फेकेगी। विजया राहटकरने कहा कि मृतका ने मरने से पूर्व अपने बयान में पुलिस कर्मियों को आग लगा कर मारने का जिम्मेदार ठहराया हैं। इसलिए महिला मोर्चा मांग करता है दोषी पुलिस कर्मियों को तुरन्त धारा 302 के अन्तर्गत गिरफ्तार किया जाये ताकि सबूतों के साथ कोई छेड़छाड़ न की जा सकें। 

निष्पक्ष जांच के लिए महिला पुलिस अधिकारी को नियुक्त किया जाये, प्रत्येक थाने में महिला पुलिसकर्मी तैनात की जाये जिससे आये दिन महिलाओं पर बढ़ते अत्याचारों पर उचित कार्यवाही के साथ रोक लगाई जा सके, महिलाओं से जुड़े विषयों की जांच केवल महिला पुलिसकर्मी से कराई जाये। 

राष्ट्रीय अध्यक्ष विजया रहाटकर ने आज बाराबंकी के कोठी थाना में नीतू द्विवेदी काण्ड पर आक्रोश व्यक्त करते हुए इस घटना में शामिल दोनों पुलिसकर्मियों की तत्काल गिरफ्तारी कर उन्हें कड़ी सजा देने की मांग करते हुए डीजीपी उ0प्र0 एवं राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष को ज्ञापन सौंपा। इस मौके पर उनके साथ राष्ट्रीय महामंत्री कमलावती ंिसह एवं राष्ट्रीय सचिव पूजा कपिल भी उपस्थित थी। ज्ञापन सौंपने के बाद राष्ट्रीय अध्यक्ष अपने पूरे प्रतिनिधि मण्डल के साथ मृतका नीतू द्विवेदी के गांव बाराबंकी भी पहंुची और पीडि़त परिवार से मिलकर उन्हें जल्द से जल्द न्याय दिलाने का आश्वासन भी दिया। इस अवसर पर प्रदेश सह मीडिया प्रभारी अनीता अग्रवाल, संयुक्ता भाटिया, अलका मिश्रा, रश्मि सिंह, रंजना उपाध्याय, संतोष अस्थाना, सुनीता बंसल, मनोरमा शुक्ला, कल्पना तिवारी, इन्दू शुक्ला, मालती तोमर, सुशीला वर्मा, बीना गुप्ता, सुमन शुक्ला, सीमा स्वर्गकार, मधुबाला त्रिपाठी आदि महिलाएं उपस्थित थी। 

Lucknow, Uttar Pradesh, India