विश्व बैंक टीम ने की शिवपाल यादव से मुलाकात

विश्व बैंक टीम ने की शिवपाल यादव से मुलाकात

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के सिंचाई मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि प्रदेश की निचली गंगा नहर प्रणाली मेें 4200 से 6380 हजार क्यूसेक पानी की बढ़ोत्तरी करके भारत में नया कीर्तिमान उत्तर प्रदेश ने स्थापित किया है। श्री यादव ने विश्व बैंक के सदस्यो को आश्वासन दिया कि विश्व बैक पोषित परियोजनाओं को अपने कुशल अधिकारियों के सहयोग से अगले 07 साल की अपेक्षा 05 में ही पूरा कर लिया जायेगा।

सिंचाई मंत्री श्री शिवपाल सिंह यादव से आज उनके आवास पर जून मस्ट मोटो के नेतृत्व में विश्व बैक की टीम ने मुलाकात किया। सिंचाई मंत्री शिवपाल सिह यादव ने टीम के सदस्यों को आश्वासन दिया कि अगले भ्रमण पर पूरी टीम को विश्व बैंक द्वारा चलाई जा रही परियोजनाओं के 16 जनपदों का हेलीकाप्टर से भ्रमण कराया जायेगा तथा लगभग 01 लाख लाभार्थियों से भी मिलवाया जायेगा।

विश्व बैक टीम के लीडर श्री जून मस्ट मोटो ने सिंचाई मंत्री की सरलता एवं सज्जनता की तारीफ करते हुए कहा कि उनके नेतृत्व में  ंिसंचाई विभाग द्वारा अद्भुत कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इससे पहले किसी भी सरकार के समय मंे ऐसा कार्य नही किया गया था।

डेनमार्क के अप्रवासी भारतीय अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि गोमती नदी पर सिंचाई विभाग द्वारा किया जा रहा कार्य अद्भुत है तथा कार्य के पूर्ण हो जाने पर  गोमती का नया स्वरूप सामने आयेगा। यह सरकार का अत्यन्त सराहनीय एवं इतिहासिक कार्य है इससे लखनऊ को विश्व स्तर पर पहचान मिलेगी। उन्होंने कहा कि कुकरैल बन्धे के पास सीवेज ट्रीटमेंट प्लान लगाकर गोमती के पानी को स्वच्छ एवं अविरल बनाया जा सकता है। 

इस अवसर पर प्रमुख सचिव सिंचाई प्रथम दीपक सिंघल, प्रमुख सचिव सिंचाई द्वितीय टी. वेेंकटेश, प्रमुख अभियन्ता परिकल्प एवं नियोेजन तथा पैक्ट के तकनीकि सलाहकार डी.के. डुडेजा, प्रमुख अभियन्ता पैक्ट श्री के.के. जैन के साथ ही सभी परियोजनाओं के मुख्य अभियन्ता एंव विश्व बैक की टीम के सदस्य अंजू गौड़, सत्य प्रिय तथा राजीव खेतान आदि उपस्थित थे।

Lucknow, Uttar Pradesh, India