बस स्टेशनों में बढ़ाई जाएँ यात्री सुविधाएं: मुख्यमंत्री

बस स्टेशनों में बढ़ाई जाएँ यात्री सुविधाएं: मुख्यमंत्री

आधुनिक बस स्टेशनों के निर्माण के लिए पी0पी0पी0 माॅडल की परियोजनाओं में और तेजी लाने के निर्देश 

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रदेश के बस स्टेशनों में यात्री सुविधाओं का विस्तार करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि आधुनिक बस स्टेशनों के निर्माण के लिए पी0पी0पी0 माॅडल की परियोजनाओं में और तेजी लाई जाए। 

मुख्यमंत्री आज यहां शास्त्री भवन स्थित अपने कार्यालय में परिवहन विभाग के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्रदेश में अंतर्राष्ट्रीय स्तर की यात्री सुविधाओं से युक्त माॅडर्न बस स्टेशन बनाने में पी0पी0पी0 के तहत जहाँ निजी पूंजी निवेश की बाधा हो वहाँ विकास प्राधिकरण एवं प्रदेश सरकार के वित्तीय सहयोग से इन्हें निर्मित कराया जाये। प्रतिष्ठित आर्किटेक्ट्स द्वारा बेहतरीन डिजाइन तैयार कराकर बस स्टेशनों को यात्रियों के लिए उपयोगी बनाया जाये। 

इस संबंध में प्रमुख सचिव परिवहन द्वारा अवगत कराया गया कि पी0पी0पी0 के अन्तर्गत कौशाम्बी (गाजियाबाद), आगरा फोर्ट, इलाहाबाद सिविल लाइन्स एवं वाराणसी कैण्ट बस अड्डों के लिए निजी पूंजी निवेशकर्ताओं ने निविदायें दी है। मुख्यमंत्री द्वारा यह निर्देश दिये गये कि कानपुर, गाजियाबाद, आगरा, फैजाबाद, गोरखपुर, मुरादाबाद, बरेली, मेरठ आदि बस अड्डे के लिए यदि पी0पी0पी0 माॅडल पर विकास की कोई दिक्कत हो तो इन स्थानों पर विकास प्राधिकरणों से सहयोग प्राप्त करने की कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि इन बस स्टेशनों में क्लाॅक रूम, बच्चों के लिए किड्स जोन, साफ सुथरे शौचालय, प्रतीक्षालय, पर्याप्त क्षमता के वाटर एटीएम, कैण्टीन, महिलाओं के लिए शिशु केयर सुविधा तथा स्टाफ के लिए डाॅरमेट्री  आदि की व्यवस्था अवश्य की जाए।

बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने स्वयं अपने फोन से परिवहन निगम  की स्वचालित पूछताछ सेवा ‘149’ को डायल कर इसकी कार्यशैली को परखा। उन्होंने पूछताछ सेवा के प्रतीक्षा समय मे कमी लाने तथा इसे अन्य सभी मोबाइल कम्यूनिकेशन कंपनियों की सुविधा से जोड़ने, वर्तमान सिस्टम में सुधार करने तथा इसका व्यापक प्रचार प्रसार करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि ज्यादा से ज्यादा लोग ‘‘यूपी बस’’ मोबाइल एप का उपयोग कर सकें, इसके लिए इसे सरल बनाया जाए। साथ ही, टोल फ्री न0 18001802877 का उपयोग बढ़ाने के लिए इसका व्यापक प्रचार-प्रसार भी कराया जाए। मुख्यमंत्री ने सड़क सुरक्षा के लिए सतर्कता बरतने, दुर्घटनाओं को कम करने एवं कण्ट्रोल रूम से बस संचालन की लगातार सघन माॅनीटरिंग के निर्देश दिए। उन्होंने परिवहन निगम के कण्ट्रोल रूम एवं कमाण्ड रूम की सराहना भी की। 

श्री यादव ने यह निर्देश भी दिए कि अवैध बस संचालन पर कड़ाई से अंकुश लगाया जाए। उन्होंने कहा कि परिवहन निगम के बस स्टेशनों के एक किलोमीटर के दायरे में प्राइवेट बसें या ठेका गाडि़यों को खड़ी न करने के सम्बन्ध में शासन द्वारा जारी निर्देशों का सख्ती से अनुपालन सुनिश्चित कराया जाए। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक परिवहन सुविधाओं में देश में उत्तर प्रदेश को अग्रणी बनाने के लिए सभी को मेहनत और लगन से कार्य करना होगा। 

Lucknow, Uttar Pradesh, India