आरएसएस ने पहली बार किया इफ्तार पार्टी का आयोजन

आरएसएस ने पहली बार किया इफ्तार पार्टी का आयोजन

नई दिल्ली। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ यानि आरएसएस ने रमजान के मौके पर पहली बार इफ्तार पार्टी का आयोजन किया। आरएसएस के मुस्लिम राष्ट्रीय मंच की ओर से शनिवार को आयोजित इफ्तार की दावत में देश भर से आए मुसलमानों के साथ-साथ 70 मुस्लिम देशों के राजदूतों ने शिरकत की।

पार्लियामेंट एनेक्सी में आयोजित इस कार्यक्रम के जरिए संघ भी प्रधानमंत्री मोदी की तरह मुस्लिमों को अपने करीब लाने की कोशिश में जुटा नजर आया। संघ के इंद्रेश कुमार ने कहा कि किसी भी धर्म के लोगों को दूसरे के धर्म और भावनाओं का सम्मान करना चाहिए और एक दूसरे का विरोध करने की बजाय आपस में सहयोग करना चाहिए।

इफ्तार पार्टी में इंद्रेश कुमार ने अरबी में कुरान की कुछ आयतों और पैगम्बर मोहम्मद साहब की कुछ बातों का हवाला देते हुए कहा कि इस्लाम का मतलब अमन और सलामती है और इस कार्यक्रम का संदेश विश्व शांति के लिए दुनिया को अपराध, हिंसा और दंगा मुक्त बनाना है

India