हैरिस ने कहा क्रिकेट को अलविदा

हैरिस ने कहा क्रिकेट को अलविदा

सिडनी। ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज रॉयन हैरिस ने अचानक अपने क्रिकेट को विराम देते हुए सभी प्रारूपों से संन्यास लेने की घोषणा की है। स्कैन में दाहिने घुटने में लगी चोट की गंभीरता पता चलने के बाद हैरिस ने तत्काल प्रभाव से शनिवार को क्रिकेट के सभी प्रारूपों को अलविदा कहने की घोषणा कर दी। इंग्लैंड के खिलाफ एशेज श्रृंखला शुरू होने से ठीक एक सप्ताह पहले हैरिस का संन्यास ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट के लिए बड़ा झटका है और हैरिस की जगह टीम में पैट कमिंस को शामिल करने का फैसला लिया गया है।

महज सात वर्ष पहले 2009 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ होबार्ट एकदिवसीय से अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण करने वाले हैरिस करियर के दौरान लगातार चोटों से जूझते रहे। इसी वर्ष ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड की संयुक्त मेजबानी में हुए आईसीसी विश्व कप के लिए टीम से बाहर रखे गए हैरिस ने आगामी एशेज श्रृंखला को करियर की समापन श्रृंखला घोषित की थी, लेकिन स्कैन के बाद एशेज में उनका खेलना संदिग्ध हो गया।

परिणामस्वरूप हैरिस ने तत्काल क्रिकेट को अलविदा कह दी। वेबसाइट "क्रिकइंफो डॉट कॉम" ने शनिवार को हैरिस के हवाले से कहा है, "मेरे घुटने की चोट के स्कैन का परिणाम मुझे आज (शनिवार) मिला, जिसके बाद अपने परिवार से चर्चा कर मैंने क्रिकेट करियर को यहीं समाप्त करने का फैसला लिया।" हैरिस ने कहा, "मैं भाग्यशाली रहा कि मेरा करियर शानदार रहा और आस्ट्रेलिया के लिए खेलने से अधिक गर्व की बात मेरे लिए और कुछ नहीं हो सकती थी।"

इसी वर्ष जनवरी में भारत के खिलाफ सिडनी में खेला गया टेस्ट मैच हैरिस के करियर का आखिरी अंतर्राष्ट्रीय मैच रहा। हैरिस ने छह वर्ष के छोटे से करियर में 27 टेस्ट मैच खेले, जिसमें उनके नाम 21 के औसत से 603 रन और 2.78 की इकॉनमी और 23.52 के औसत से रन देते हुए लिए गए 113 विकेट हैं। हैरिस ने 21 अंतर्राष्ट्रीय एकदिवसीय में 4.84 की इकॉनमी और 18.90 के बेहतरीन औसत से रन देते हुए 44 विकेट चटकाए।