व्यापमं घोटाला: अब एक पत्रकार की रहस्यमयी मौत

व्यापमं घोटाला: अब एक पत्रकार की रहस्यमयी मौत

झाबुआ: मध्य प्रदेश के झाबुआ जिले के मेघनगर में एक अग्रणी समाचार चैनल के रिपोर्टर की शनिवार को उस समय रहस्यमय तरीके से मौत हो गई, जब वह व्यापमं घोटाले में एक छात्रा का नाम आने और उसका शव संदिग्ध परिस्थितियों में उज्जैन में रेलवे पटरियों के पास पाए जाने के मामले में उसके माता-पिता का इंटरव्यू रिकॉर्ड कर रहा था।

इस टीवी रिपोर्टर की पहचान अक्षय सिंह के रूप में हुई है, जो टीवी टुडे समूह के साथ कार्यरत थे और नम्रता डामोर का व्यापमं मामले में नाम आने के बाद उज्जैन में रेलवे पटरियों के निकट उसका शव संदिग्ध परिस्थितियों में मिलने के मामले में जिले के मेघनगर में उसके माता-पिता का इंटरव्यू रिकॉर्ड कर रहे थे।

नम्रता के पिता मेहताब सिंह डामोर ने कहा, ‘आज दोपहर उनके निवास पर एक रिपोर्टर सहित चैनल के तीन लोग आए थे। बातचीत होने के बाद संबंधित कागजात की फोटोकॉपी कराने उनका एक परिचित बाजार गया।’ उन्होंने कहा, ‘रिपोर्टर सहित चैनल के लोग जब उनके घर के बाहर फोटोकॉपी का इंतजार कर रहे थे, तभी अक्षय के मुंह से अचानक झाग निकलने लगा और उन्हें तुरंत सिविल अस्पताल ले जाया गया, जहां से एक निजी अस्पताल में भेज दिया गया।’

हालांकि उस निजी अस्पताल से अक्षय को मध्य प्रदेश की सीमा से लगे गुजरात के दाहोद भी ले जाया गया, जहां अस्पताल के डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। उधर, झाबुआ के पुलिस अधीक्षक आबिद खान ने अक्षय सिंह की मेघनगर में मृत्यु होने की पुष्टि की है।

India