बिजली मूल्य वृद्धि वापस लेने की मांग को लेकर सड़क पर उतरे कांग्रेसी

बिजली मूल्य वृद्धि वापस लेने की मांग को लेकर सड़क पर उतरे कांग्रेसी

लखनऊ: प्रदेश में बिजली मूल्य वृद्धि दर को वापस लेने की मांग को लेकर उ0प्र0 कंाग्रेस कमेटी ने आज प्रदेश के सभी मंडल व जिला मुुख्यालयों पर प्रदेश सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतरकर प्रदेश के मुखिया अखिलेश यादव का पुतला जलाकर विरोध प्रदर्शन किया और मांग की, कि बिजली की बढ़ोत्तरी को सरकार जनता के हित में अविलम्ब वापस ले, अन्यथा कांग्रेसजन आन्दोलन को और तेज करेंगे। इस आन्दोलन में प्रदेश सरकार की बर्बरतापूर्वक लिये गये निर्णय के कारण आज कुछ जिलों में कांग्रेसजन पुलिस लाठीचार्ज के शिकार हुए, जिसके तहत गोरखपुर में हुए बर्बर लाठीचार्ज में महानगर सचिव शैलेन्द्र पाण्डेय की पैर की हड्डी टूट गयी और वह सिविल अस्पताल में भर्ती हैं। 

प्रदेश की राजधानी लखनऊ में शहर कांग्रेस अध्यक्ष बोधलाल शुक्ला एडवोकेट एवं जिलाध्यक्ष गौरव चौधरी के संयुक्त नेतृत्व में प्रदेश कंाग्रेस मुख्यालय पर एकत्र हुए कांग्रेसजनों ने प्रदर्शन करते हुए विधानसभा की ओर कूच किया किन्तु रास्ते में लालबहादुर शास्त्री मार्ग पर भारी संख्या में तैनात पुलिस प्रशासन द्वारा प्रदर्शनकारियों को रोका गया जहां कंाग्रेसजनों ने प्रदेश सरकार का पुतला फूंककर बिजली के मूल्यों में की गयी भारी वृद्धि को तत्काल वापस लेने की मांग की गयी। पुतला दहन में प्रमुख रूप से कांग्रेस विधान परिषद दल के नेता नसीब पठान, पूर्व विधायक श्यामकिशोर शुक्ल, ओंकार नाथ सिंह, संजीव सिंह, वीरेन्द्र मदान, द्विजेन्द्र त्रिपाठी, शिव पाण्डेय, सुबोध श्रीवास्तव, रमेश मिश्रा सहित भारी संख्या में कांग्रेसजन शामिल रहे।

प्रदर्शन के बाद विद्युत मूल्य बढ़ोत्तरी को वापस लिये जाने की मांग को लेकर कंाग्रेस का एक प्रतिनिधिमंडल विद्युत नियामक आयोग के चेयरमैन देशदीपक वर्मा से मिला और विद्युत मूल्य बढ़ोत्तरी को तत्काल वापस लेने की मांग की। प्रतिनिधिमंडल में प्रमुख रूप से पूर्व मंत्री सत्यदेव त्रिपाठी, पूर्व मंत्री राजबहादुर, पूर्व एमएलसी हरीश बाजपेयी एवं सिराज मेंहदी, प्रदेश कंाग्रेस के महामंत्री ओंकारनाथ सिंह शामिल रहे।

Lucknow, Uttar Pradesh, India