गांगुली ने कहा, धोनी को सम्मान दो

गांगुली ने कहा, धोनी को सम्मान दो

नई दिल्ली। पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने आज आलोचकों के निशाने पर चल रहे महेंद्र सिंह धोनी के लिए सम्मान की मांग करते हुए कहा कि कप्तान के रूप में वनडे में उनका बेजोड़ रिकॉर्ड है और उन्हें फैसला करने के लिए पर्याप्त समय दिया जाना चाहिए।

बांग्लादेश के हाथों दूसरे वनडे में भारत की हार के बाद धोनी ने कल रात भावनाओं में बहकर कह दिया था कि यदि उनके कप्तानी छोड़ने से भारतीय क्रिकेट के अच्छे दिन आ जाएंगे तो वह इसके लिए तैयार हैं। गांगुली ने कहा कि किसी को भी उनकी इस बात को गंभीरता से नहीं लेना चाहिए क्योंकि धोनी ने निराशा में ऐसी बात की।

गांगुली ने एक टीवी चैनल से कहा है कि उन्होंने मौके की नजाकत के अनुसार यह बात कर दी और यह सही नहीं है। वह हार से परेशान था। उस बात को वहीं छोड़ दो। सभी को बैठकर सोचना होगा। एम एस धोनी को नीचा मत दिखाओ। उनका वनडे में शानदार रिकॉर्ड है। उन्हें सम्मान दो।

इस पूर्व कप्तान से पूछा गया कि क्या उन्हें लगता है कि गांगुली को 2016 विश्व टी20 तक कप्तान बनाए रखना चाहिए, उन्होंने कहा है कि यह किसी एक व्यक्ति का फैसला नहीं है। अभी शांति बरतो।श्रृंखला समापत होने दो। इस तरह के फैसले रातों रात नहीं किए जा सकते।  उन्होंने कहा है कि जो भी फैसला करें उन्हें लंबी अवधि को ध्यान में रखना होगा। वहां बीसीसीआई अध्यक्ष, सचिव और पदाधिकारी हैं। उसे पर्याप्त समय दिया जाना चाहिए। गांगुली को याद दिलाया गया कि वह बीसीसीआई की सलाहकार समिति में है ओर बोर्ड को इस बारे में सुझाव दे सकते हैं, उन्होंने कहा है कि मुझे पक्के तौर पर पता नहीं है कि यह सलाहकार समिति का हिस्सा है।