धरने पर बैठे चौकीदारों पर पुलिस का टूटा कहर

धरने पर बैठे चौकीदारों पर पुलिस का टूटा कहर

लखनऊ: पाँच दिनों से चल रहे उ0प्र0 ग्रामीण चौकीदारांे के धरने पर लखनऊ प्रशासन ने बर्बर कार्यवाही की। लक्ष्मण मेला पार्क मे बैठे हजारों चौकीदारों को आधी रात करीब  हजरतगंज कोतवाली के कोतवाल विजयमल यादव के नेतृत्व मे चारों तरफ से घेरकर लाठी चार्ज किया तथा उनका पंडाल, माइक इत्यादि तोड़ डाला और कुर्सिया सामान टैम्पू मे लादकर ले गये। पुलिस चौकीदारों को मारकर पी0एस0सी0 गाड़ी मे जबरन बैठाकर उन्हें चारबाग रेलवे स्टेशन पर छोड़ दिया। धरने मे शामिल महिला चिल्लाती रही लेकिन बिना महिला पुलिस के ही पुलिस ने उनके साथ भी बर्बर रवैया अपनाया। सैकड़ों चौकीदार पुलिस की डर से चारबाग स्टेशन मे आस-पास छुपे रहे। कही 02 बजे धरने के संयोजक पहरेदार भारती के संयोजक श्रीकान्त शुक्ला ने चौकीदारों को अलग-अलग मिलकर बात की फिर सी0ओ0 अशोक कुमार के आश्वासन पर चारबाग स्टेशन पर इकट्ठा किया उनसे शान्ती से घर वापस लौटने की अपील की। श्रीकान्त शुक्ला ने चौकीदारों से सरकार के इस बर्बर रवैये को लोकतन्त्र की निशृंस हत्या बताया और उन्हें अपने-अपने थानो और जिला मुख्यालय पर सरकार की इस तानाशाही के खिलाफ धरना प्रदर्शन का आवाह्न किया।

श्रीकान्त शुक्ला ने बताया कि वह आज राज्यपाल का समय मांगकर लोकतंत्र  विरोधी पुलिस की इस बर्बर कार्यवाही के खिलाफ ज्ञापन देगें तथा लखनऊ पुलिस पर मुकदमा दर्ज करेगें। 

Lucknow, Uttar Pradesh, India