फैज़ाबाद में ढूंढे जाएंगे तोमर की डिग्रियों के राज़

फैज़ाबाद में ढूंढे जाएंगे तोमर की डिग्रियों के राज़

नई दिल्ली: फर्जी डिग्री मामले में गिरफ्तार दिल्‍ली के पूर्व कानून मंत्री जितेंद्र सिंह तोमर को दिल्‍ली पुलिस उत्‍तर प्रदेश के फैजाबाद लेकर जा रही है, ताकि उनकी फर्जी डिग्रियों के जारी होने के बाबत जांच की जा सके। आज सुबह पुलिस तोमर को लेकर लखनऊ स्‍टेशन पहुंची। इसके बाद पुलिस 49 वर्षीय तोमर को ट्रेन के जरिए फैजाबाद ले जा रही है। पुलिस यहां कॉलेज में उनकी उस बीएससी डिग्री को लेकर जांच करेगी, जिसके डॉ. राममनोहर लोहिया अवध यूनिवर्सिटी से जारी होने का दावा किया गया। इसके बाद तोमर को बिहार के भागलपुर ले जाया जाएगा।

गिरफ्तारी के बाद कल कानून मंत्री जितेंद्र सिंह तोमर ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया। तोमर ने लॉकअप से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को इस्तीफा भेजा, जिसे स्वीकार कर लिया गया। उप मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया ने कहा, ‘तोमर ने मुख्यमंत्री को अपना इस्तीफा भेज दिया है और मुख्यमंत्री ने उसे स्वीकार कर लिया। इसे बुधवार सुबह उप राज्यपाल को भेजा जाएगा।’ उन्होंने कहा कि मंगलवार के घटनाक्रम के बाद तोमर ने खुद इस्तीफा दे दिया। यह पूछे जाने पर कि तोमर ने पहले क्यों नहीं इस्तीफा दिया, सिसौदिया ने कहा, ‘यह तो जितेंद्र तोमर ही बता सकते हैं।’ तोमर ने कहा कि वह नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे रहे हैं, लेकिन मैं इस मामले में लड़ूंगा और जीतूंगा। इसके बाद मैं पार्टी के लिए काम करूंगा।’ उन्होंने आरोप लगाया कि बीजेपी की अगुवाई वाली केंद्र सरकार ‘इस साजिश' के पीछे है। 'आप' के एक नेता ने अपना नाम गुप्त रखते हुए बताया कि तोमर का विकल्प तलाशने की प्रक्रिया जल्द ही शुरू की जाएगी। हालांकि सबसे पहले इस मामले को सुप्रीम कोर्ट में ले जाना प्राथमिकता है।

India