फातुल्लाह की पिच से असंतुष्ट नज़र आये बांग्लादेश के कोच

फातुल्लाह की पिच से असंतुष्ट नज़र आये बांग्लादेश के कोच

फातुल्लाह। आमतौर पर बल्लेबाजों के लिए मददगार मानी जाने वाली खान साहेब उस्मान अली स्टेडियम की पिच ने मेजबान बांग्लादेश के कोच चंडिका हाथुरुसिंघा और कप्तान मुशफिकुर रहीम को हैरान कर दिया। भारत और बांग्लादेश के बीच एकमात्र टेस्ट इस मैदान पर बुधवार से शुरू होना है।

वेबसाइट 'बीडीन्यूज24 डॉट कॉम' के अनुसार दो दशक से ज्यादा समय से क्रिकेट से जुड़े रहने वाले श्रीलंका के हाथुरुसिंघा ने कहा कि उन्होंने ऐसी पिच पहले कभी नहीं देखी।

हाथुरुसिंघा के अनुसार, इस विकेट के बारे में कुछ भी कहना मुश्किल होगा क्योंकि मैंने ऐसी पिच कभी नहीं देखी। पिच पर बेहद छोटी-छोटी घास मौजूद है। यह अजीब है क्योंकि या तो किसी पिच पर घास बिल्कुल नहीं होता और बहुत ज्यादा ही होता है।

हाथुरुसिंघा कनाडा के कोच के तौर पर पहली बार 2011 विश्व कप के दौरान बांग्लादेश आए। उस दौरान उनकी टीम ने इंग्लैंड के खिलाफ फातुल्लाह में एक अभ्यास मैच भी खेला। भारत के खिलाफ बुधवार से शुरू हो रहा टेस्ट आधिकारिक तौर पर बांग्लादेश के कोच के तौर पर उनका पहला मैच होगा।

हाथुरुसिंघा के साथ-साथ बांग्लादेश के कप्तान मुशफिकुर ने भी पिच को लेकर हैरानी जताई। मुशफिकुर के अनुसार, ऐसी पिच ज्यादातर एकदिवसीय या टी-20 मैचों के लिए तैयार की जाती है। मैंने टेस्ट मैचों के लिए ऐसा पिच कभी नहीं देखा। मुझे पता नहीं कि अगले पांच दिन यह कैसा व्यवहार करेगी।

मुशफिकुर ने हालांकि साथ ही कहा कि उनके अनुसार पिच शुरुआती दो दिन बल्लेबाजों की मदद करती नजर आएगी और इसके बाद स्पिन गेंदबाजों की भूमिका अहम होगी। भारतीय टीम मंगलवार को जब मैदान पर पहुंची तो विकेट ढका हुआ था। इस बीच कप्तान विराट कोहली ने एक बार पिच का मुआयना किया। कोहली ने हालांकि किसी प्रकार की हैरानी नहीं जताते हुए कहा कि पिच कठोर है और उन्हें कुछ भी असामान्य नहीं लगा।