बड़े इमामबाड़े पर पड़ा रहा ताला, सैलानी मायूस लौटे

बड़े इमामबाड़े पर पड़ा रहा ताला, सैलानी मायूस लौटे

वसीम रिज़वी के खिलाफ आंदोलन को मिला रालोद का समर्थन 

लखनऊ: शिया वक्फ बोर्ड में जारी भ्रष्टाचार और सरकार के अन्याय के खिलाफ बड़े इमामबााड़े पर अन्जुमनों का धरना तीसरे दिन भी जारी रहा। आज संगठन कमरे बनी हाशिम और गरीबुल अजा ने धरना दिया।  कल 8 जून को संगठन रजाए हुसैन और संगठन मेराजुल मोमेनीन धरने पर बैठेगी। इस दौरान बड़े इमाम बाड़े का ताला बंद रहा । जिससे देश विदेश से आये  संख्या में सैलानियों को मायूस लौटना पड़ा। वहीं अनजुमनों का कहना है कहा जब तक हमारी मांगों पूरे नहीं की  जाती हम ताला नहीं खोलने देंगे और धरने पर बैठें रहेगे। उन्होंने कहा कि बेइमान अध्यक्ष अभी भी मौलाना कल्बे जव्वाद पर बेबुनियाद आरोप लगा रहा है जो हम यह बर्दाश्त नहीं करेंगे उसे पद से बर्खास्त किया जाए।  मौलाना सीबीआई जांच की जो मांग कर रहे हैं वह कराई जाए ताकि वक्फ बोर्ड में फैला भ्रष्टाचार सबके सामने आ सके।  मौलाना कल्बे जव्वाद आज संगठनों के धरने पर पहुंचे और उनकी प्रेरित किया।

आज शाम को 2 बजे के करीब राष्ट्रीय लोकदल के नेता मुन्ना सिंह चौहान मौलाना कल्बे जव्वाद नकवी से मिलने उनके निवास स्थान पहुंचे उनके साथ राष्ट्रीय लोकदल पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष और सक्रिय सदस्य डॉ मसूद अहमद और वसीम हैदर भी थे।  मुन्ना सिंह चौहान ने मौलाना कल्बे जव्वाद की वक्फ बचाव आंदोलन का समर्थन की घोषणा की और कहा कि वह अनशन और संगठनों के धरने के समर्थन में मौलाना के साथ हैं।

वसीम रिजवी के हटने तक जारी रहेगी भूख हड़ताल: शबीह फातिमा 

लखनऊ: छोटे इमामबाड़े मंे शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी को प्रदेश सरकार द्वारा दोबारा चेयरमैन बनाये जाने के विरोध में अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर मुस्लिम महिलायें आज ग्याहरवें दिन भी बैठी रहीं । महिलाओं ने कहा जब तक वसीम रिजवी को पद से हटाया नहीं जाता तब तक हमारी भूख हड़ताल जारी रहेगी चाहें हम यहां मर ही क्यूं न जायें।  इसी दौरान कई महिलाओं की हालत बिगड़ गयी जिनका उपचार सामरा हास्पिटल में कराया गया ।

 भूख हड़ताल पर बैठी मुस्लिम महिला जागरूक मंच की अध्यक्ष शबीह फात्मा ने कहा कि वसीम रिज़वी आगरा, मुजफ्फर नगर, मेरठ, लखनऊ व सहारनपुर के वक्फ सम्पत्ती घोटाले में शामिल हैं अपने भ्रष्टाचार को छुपाने के लिये वो मौलाना कल्बे जवाद साहब पर बेबुनियाद इल्ज़ाम लगा रहे हैं जबकि वसीम रिजवी को सी0बी0सी0आई0डी0 जांच में करोड़ों रूपये के घोटाले का दोषी पाया गया और प्रदेश सरकार उसे जेल भेजने के बजाये उसे बचा रही हैं और हमारे धार्मिक स्थलों की वक्फ सम्पत्ति तबाह करने पर तुली हुई हैं जिसे हमारा समुदाय कतई बर्दाश्त नहीं करेगा।  उन्होंने यह भी कहा कि यह समाजवादी सरकार मुस्लिम व महिला विरोधी सरकार है जिसके नेता यह कहते है कि बलात्कार सहमति से होता है। श्रीमती शबीह फात्मा ने सरकार को चेतावनी दी कि अगर जल्द ही हमारी मांगे नहीं मानी जाती हैं तो हम रेल रोको आन्दोलन भी शुरू करेंगे।

 
Lucknow, Uttar Pradesh, India