कैम्प लगाकर प्रधानमंत्री की जनकल्याण योजनाओं की दी जानकारी

कैम्प लगाकर प्रधानमंत्री की जनकल्याण योजनाओं की दी जानकारी

लखनऊ: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की गांव, गरीब, किसान, कन्या और नौजवानों के उन्नत के लिए आरम्भ की गयी योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने के लिए भारतीय जनता पार्टी ने प्रदेश मुख्यालय के बाहर कैम्प लगाया। कैम्प का उद्घाटन के पश्चात उपस्थित जनसमूह को सम्बोधित करते हुए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डा0 लक्ष्मीकांत बाजपेयी ने योजनाओं के बारे में लोगों को विस्तृत रूप से समझाया।

डा0 बाजपेयी ने बताया कि प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के अंतर्गत कोई भी व्यक्ति जिसका किसी भी बैंक में खाता हो वह व्यक्ति बीमा करा सकता है तथा जिस व्यक्ति का खाता नहीं वह भी किसी बैंक में खाता खोलकर बीमा का लाभार्थी हो सकता है। बीमे की किस्त प्रति माह 1 रूपये है जो कि व्यक्ति के खाते से प्राप्त कर ली जायेगी। व्यक्ति 18 से 70 वर्ष के मध्य का होना चाहिए। किसी भी प्रकार की दुर्घटना में बीमा लाभार्थी की मृत्यु होने के उपरान्त 2 लाख रू0 मृतक के परिवार को प्राप्त होगा। दोनों आँखे/दोनो हाथ/दोनों पैर की पूर्ण क्षति होने पर 2 लाख रूपये की राशि लाभार्थी को प्राप्त होगी। एक आँख/एक हाथ/एक पैर की पूर्ण क्षति होने पर 1 लाख रूपये का बीमा लाभार्थी दुर्घटना बीमा योजना है।

डा0 बाजपेयी ने बताया कि प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के अन्र्तगत यदि व्यक्ति की मृत्यु होती है तो मृतक के परिवार को 2 लाख रूपये की सहायता दी जायेगी। इस बीमे की किस्त 330 रूपये वार्षिक है जो कि व्यक्ति के खाते से प्राप्त कर ली जायेगी। जिसका खाता नहीं है वह किसी भी बैंक में खाता खोलकर इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकता है। इस योजना में व्यक्ति द्वारा अपने अच्छे स्वास्थ्य का प्रमाण पत्र स्वयं ही प्रस्तुत करना होगा।

डा0 बाजपेयी ने बताया कि सुकन्या समृद्धि योजना के अन्र्तगत बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं है। यह योजना 2 दिसम्बर 2003 के बाद में जन्मी कन्याओं हेतु है। बालिका का जन्म प्रमाण पत्र और संरक्षक का पहचान पत्र होना अति आवश्यक है। प्रारम्भिक जमा राशि 1 हजार तथा प्रतिवर्ष एक किस्त न्यूनतम 1000 से 1 लाख 50 हजार रू0 तक (व 100 रूपये के गुणांक में प्रत्येक माह) जमा की जा सकती है। इस खाते खाते में 14 वर्ष तक पैसा जमा करना होगा। बालिका की शिक्षा एवं शादी हेतु उसकी 18 वर्ष की अवस्था के बाद 50 प्रतिशत तक आंशिक निकासी की सुविधा है। इस योजना में 9.2 प्रतिशत ब्याज का लाभ भी मिलेगा। एक परिवार की अधिकतम दो बालिकाओं को इसका लाभ मिलेगा।

डा0 बाजपेयी ने बताया कि अटल पेंषन योजना के अन्र्तगत जो व्यक्ति 18 वर्ष से कम न हो तथा 40 वर्ष तक के व्यक्ति को इस योनजा का लाभ प्राप्त होगा। इस योजना में न्यूनतम 20 वर्ष तक किस्त देनी अनिवार्य है। यह योजना असंगठित क्षेत्र के काम करने वालों के लाभ हेतु। इस योजना के अन्र्तगत 1 हजार से 5 हजार तक की पेंशन व्यक्ति मिलेगी।

उपस्थित प्रमख लोगों में प्रदेश उपाध्यक्ष हरद्वार दूबे, प्रदेश मंत्री अनूप गुप्ता, प्रदेश प्रवक्ता विजय बहादुर पाठक, श्यामनन्दन सिंह, प्रदेश मीडिया प्रभारी मनीष शुक्ला, रूमाना सिद्दीकी, मुख्यालय प्रभारी भारत दीक्षित, सह प्रभारी चै0 लक्ष्मण सिंह, संदीप शाही, पुष्पेन्द्र त्यागी, गिरजा शंकर गुप्ता आदि लोग रहे।

 

Lucknow, Uttar Pradesh, India