साइना-कश्यप इंडोनेशिया ओपन के अंतिम आठ में

साइना-कश्यप इंडोनेशिया ओपन के अंतिम आठ में

जकार्ता : साइना नेहवाल ने चीनी ताइपे की सू हां चिंग को जबकि पारूपल्ली कश्यप ने दुनिया के पांचवें नंबर के खिलाड़ी सोन वान हो को सीधे गेम में हराकर आज यहां इंडोनेशिया ओपन सुपर सीरीज बैडमिंटन टूर्नामेंट पुरूष एकल क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया जबकि किदाम्बी श्रीकांत हारकर बाहर हो गए।

गुरुवार को विश्व रैंकिंग में शीर्ष स्थान गंवाकर तीसरे स्थान पर खिसकने वाली साइना ने महज 36 मिनट में चिंग को 21-13, 21-15 से रौंद दिया। अब महिला एकल क्वार्टर फाइनल में उनका मुकाबला पुरानी प्रतिद्वंदी शिजियान वैंग से होगा। कश्यप ने कोरिया के वान हो को सिर्फ 36 मिनट में 21-11, 21-14 से हराकर बड़ा उलटफेर किया। अब पुरूष एकल क्वार्टर फाइनल में उनका मुकाबला शीर्ष वरीयता प्राप्त चेन लांग से होगा।

दुनिया के 12वें नंबर के खिलाड़ी कश्यप ने शानदार खेल का प्रदर्शन करते हुए 42 अंक बनाये जबकि कोरियाई प्रतिद्वंद्वी सिर्फ 25 अंक बना सका। श्रीकांत को इंडोनेशिया के गिंटिंग एंथोनी ने 14-21, 22-20, 21-13 से मात दी। चौथी वरीयता प्राप्त श्रीकांत ने शानदार शुरूआत करने के बाद लय खो दी और प्रतियोगिता से बाहर हो गये।

दूसरी वरीयता प्राप्त साइना ने पूरे मैच में बेदाग प्रदर्शन करते हुए पहला गेम महज 14 मिनट में जीत लिया। चिंग ने हालांकि अगले गेम में साइना को चुनौती देने दी लेकिन साइना ने बेहतरीन खेल का प्रदर्शन करते हुए अपने प्रतिद्वंदी को टिकने का मौका नहीं दिया और महज 36 मिनट में मैच खत्म कर दिया।

वहीं कश्यप के लिये पहला गेम बेहद आसान रहा। उसने 4-0 की बढ़त से आगाज किया और उसके बाद लय कायम रखी। कोरियाई खिलाड़ी ने हालांकि वापसी की कोशिश करते हुए स्कोर एक समय 4-7 कर लिया। दूसरे गेम में वान हो ने वापसी करके 2-0 की बढ़त बना ली लेकिन कश्यप ने जल्दी ही स्कोर 3-3 कर लिया। स्कोर 6-6 होने तक मुकाबला बराबरी का था लेकिन कश्यप ने लगातार छह अंक लेकर 12-6 से बढ़त बना ली। 

चौथी वरीयता प्राप्त श्रीकांत ने शानदार शुरूआत करते हुए पहला गेम जीत लिया। एंथोनी ने हालांकि दूसरे गेम में वापसी की। स्कोर 20-20 होने तक मुकाबला बराबरी का था लेकिन गैर वरीय इंडोनेशियाई खिलाड़ी ने दो अहम अंक लेकर मैच को निर्णायक गेम तक खींचा। तीसरे गेम में उन्होंने लय खो दिया और यह सेट हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गये।

इस बीच युगल वर्ग में भारत की चुनौती समाप्त हो गई। ज्वाला गुट्टा और अश्विनी पोनप्पा की जोड़ी दूसरे दौर में सातवीं वरीयता प्राप्त यू यांग और झोंग कियांशिन से 21-8, 21-18 से हारकर बाहर हो गई। प्रणाव जेरी चोपड़ा और अक्षय देवलकर पुरूष युगल दूसरे दौर में पांचवीं वरीयता प्राप्त चीन के चाइ बियाओ और होंग वेइ से 21- 13, 21-11 से हारकर बाहर हो गए।