इमोशनल अत्याचार: भरोसा करने की चुकाई भारी कीमत

इमोशनल अत्याचार: भरोसा करने की चुकाई भारी कीमत

किसी से प्यार होना शाश्वत है पर कभी-कभी यह परीकथाओं जैसा नहीं होता और हर बार इसका अंत सुखद नहीं होता। इमोशनल अत्याचार के आगामी एपिसोड में एक युवा, आत्मनिर्भर लड़की की कहानी होगी, जिसे अपने प्यार पर भरोसा करने की भारी कीमत चुकानी पड़ी। इमोशनल अत्याचार के एपिसोड का प्रसारण इस शुक्रवार, 29 मई को शाम 7 बजे बिंदास पर होगा। 

यह कहानी कृतिका और मानव के इर्दगिर्द है, जोकि पिछले 6 महीने से डेटिंग कर रहे हैं। कृतिका एक आत्मविश्वासी एवं आत्मनिर्भर लड़की है जोकि टाॅक शो के लिए काम करती है जबकि मानव एक कंपनी के आइटी विभाग में कार्यरत है। एक दिन मानव अपना वालट उसके घर पर छोड़ जाता है तब वह आॅफिस जाकर उसे यह देने का फैसला करती है। कृतिका को गहरा सदमा पहुंचता है जब आॅफिस का स्टाफ बताता है कि मानव नाम का कोई भी शख्स कंपनी में काम नहीं कर रहा है। कृतिका परेशान हो जाती है कि मानव इतने दिनों से उससे लगातार झूठ बोलता रहा है।

वह अपने दोस्त एवं सहकर्मी मोएत को घटना बताती है और वे आगे की जांच करने का फैसला करते हैं। एक योजना के साथ यह जोड़ी शिवांगी के पास जाती है जो मदद के लिए राजी हो जाती है। वह मानव को उनके सेट पर बुलाने और फिर उसका पीछा करने की सलाह देती है लेकिन उनका यह प्लान नाकाम हो जाता है क्योंकि उसकी कार कहीं गायब हो जाती है। पर जल्द ही, वे उसकी कार को एक काॅफी शाॅप के पास देखते हैं जहां वह एक लड़की से मिलने के लिए जाता है। वह लड़की थोड़ी दुखी नजर आती है और रो रही होती है। आगे जो होता है उसे देखकर मोएत और शिवांगी दंग रह जाते हैं। तिकड़ी किसी तरह लड़की का पता लगाने में सफल होती है और उससे खुलासा करवाने के लिए अपार्टमेंट पहुंच जाती है। वहां पहुंचकर उन्हें एक और सदमा लगता है क्योंकि उन्हें अपार्टमेंट में मानव पर आरोप लगाने वाला एक सुसाइड नोट मिलता है।