सूरज के सितम से अबतक 350 से अधिक की मौत

सूरज के सितम से अबतक 350 से अधिक की मौत

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली समेत देश के ज्यादातर हिस्सों में लू का कहर जारी है। आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में शनिवार से तेज लू और शदीद गर्मी के कारण कम से कम 145 लोगों की मौत हो चुकी है। इसके साथ ही देश भर में अब तक लू की चपेट में आकर 350 से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं।

राष्ट्रीय राजधानी में रविवार को कड़ी धूप और ऊंचे तापमान के साथ तपती हवा चलती रही, जिससे लोग बेहाल रहे। दिल्ली में अधिकतम तापमान 43.5 डिग्री सेल्सियस, जबकि न्यूनतम तापमान 27.5 डिग्री दर्ज किया गया और आद्रता का स्तर 27.5 से लेकर 52.2 प्रतिशत तक घटता बढ़ता रहा।

आंध्र प्रदेश में लू की चपेट में आकर शनिवार से अब तक 87 लोगों की मौत हो चुकी है, जिसके साथ राज्य में 18 मई के बाद से अब तक 182 लोग मारे जा चुके हैं। राज्य के आपदा प्रबंधन अधिकारियों ने कहा कि प्रकाशम जिले में सबसे ज्यादा 57 लोग मारे गए।

वहीं तेलंगाना के आपदा प्रबंधन विभाग की एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि राज्य में शनिवार से लू के कारण 58 लोगों के मारे जाने के साथ 15 अप्रैल से अब तक 10 जिलों में कुल 186 लोग मारे गए हैं। उन्होंने बताया कि नलगोंडा जिले में सबसे ज्यादा 55 लोग, खम्माम जिले में 43 और महबूबनगर जिले में 23 लोग मारे गए हैं। हैदराबाद में लू के कारण दो लोगों की मौत हुई है।

खम्माम जिले में शुक्रवार को अधिकतम तापमान 48 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। भारतीय मौसम विभाग के अनुसार दोनों राज्यों में सोमवार तक लू की स्थितियां बनी रहने की उम्मीद है।

इसके अलावा देश के दूसरों हिस्सों में भी लू का कहर जारी रहा। ओडिशा में रविवार को गर्मी का प्रकोप और बढ़ गया। राज्य में नौ जगहों पर अधिकतम तापमान 45 डिग्री, जबकि 19 शहरों में 40 डिग्री सेल्सियस के पार कर गया। औद्योगिक शहर अंगुल में अधिकतम तापमान सर्वाधिक 46.7, संबलपुर में 46.6, तितलागढ़ में 46.5 और हीराकुद में 46.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं राजधानी भुवनेश्वर में यह 45 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया।

विशेष राहत आयुक्त (एसआरसी) के अनुसार लू के कारण राज्य में अब तक 26 लोग मारे गए हैं। हालांकि मौतों के सही कारण का पता लगाने के लिए जांच की जा रही है।

वहीं राजस्थान में गर्मी के प्रकोप से कोई राहत नहीं मिली। राज्य में जैसलमेर और श्रीगंगानगर जिले 45.6 डिग्री सेल्सियस अधिकतम तापमान के साथ सबसे गर्म स्थान रहे। कोटा में अधिकतम तापमान 45.5, बीकानेर में 44.6 और बाड़मेर में 44.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मौसम विभाग के अनुसार शाम साढ़े चार बजे तक चुरू और जयपुर दोनों जगहों पर अधिकतम तापमान 43.8 डिग्री सेल्सियस था। जोधपुर, अजमेर और डबोक में अधिकतम तापमान क्रमश: 42, 41.4 और 40 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटों के दौरान कोटा और बीकानेर संभागों में गर्मी और लू का प्रकोप बना रहेगा और प्रदेश के कई स्थानों में मौसम शुष्क बना रहेगा तथा अधिकतम तापमान में इजाफे की संभावना है।

पंजाब और हरियाणा में भी आज गर्मी से कोई राहत नहीं मिली। हरियाणा के करनाल में अधिकतम तापमान सर्वाधिक 44.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। हरियाणा के हिसार में अधिकतम तापमान 44, अम्बाला में 42.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। चंडीगढ़ में अधिकतम तापमान 42 डिग्री सेल्सियस रहा।

इसके अलावा पंजाब के लुधियाना में अधिकतम तापमान 43, पटियाला में 42.9, अमृतसर में 41.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मौसम विभाग के अनुसार दोनों राज्यों के दूरदराज के इलाकों में सोमवार तक धूल भरी आंधी या गरज के साथ छींटे पड़ सकते हैं। आंधी की रफ्तार 45 किलोमीटर प्रति घंटे हो सकती है।

India