सपा सरकार को लाठी लेकर दौड़ाएंगे किसान: अमित शाह

सपा सरकार को लाठी लेकर दौड़ाएंगे किसान: अमित शाह

हाथरस। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने उत्तर प्रदेश की समाजवादी पार्टी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि पीड़ित किसान छह महीने के अंदर सपा सरकार को लाठी लेकर दौड़ाएंगे।

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह हाथरस के सिकंदराऊ में एक जनसभा को संबोधित कर रह थे। अमित शाह ने कहा कि केंद्र सरकार ने उत्तर प्रदेश के किसानों के लिए बहुत धन दिया है, लेकिन उत्तर प्रदेश में बाप-बेटे (मुलायम-अखिलेश) की सरकार अभी तक उस धन को पीडि़त किसानों को बांट तक नहीं पा रही है। उन्होंने जनसभा में लोगों से उत्तर प्रदेश की सरकार को उखाड़ने फेकने का आह्वान किया।

उन्होंने कहा कि केंद्र ने उत्तर प्रदेश सरकार को एक बार फिर से किसानों के नुकसान का सर्वे करने को कहा था, लेकिन अभी तक सर्वे की सूची ही नहीं बन पाई है। इससे स्पष्ट है कि उत्तर प्रदेश सरकार किसानों की विरोधी है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में पिछड़ों की राजनीति करने वालों ने पिछड़ों के विकास के लिए कुछ नहीं किया। उ0प्र0 के विकास के लिए पिछड़ों को भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व में एक जुट होकर आगे आना होगा।

अमित शाह ने कहा कि केंद्र ने यूपी सरकार को एक बार फिर से किसानों के नुकसान का सर्वे करने को कहा था, लेकिन अभी तक सर्वे की सूची ही नहीं बन पाई है। इससे साफ जाहिर होता है कि अभी तक दोबारा सर्वे नहीं हो सका है। उन्होंने कहा कि यूपी सरकार किसान विरोधी है, जबकि केंद्र सरकार की सभी नीतियां आम आदमी के लिए काफी हितकारी हैं।

प्रदेश प्रभारी ओम प्रकाश माथुर ने रैली को सम्बोधित करते हुए कहा कि किसी शासक को भी माँ का दर्जा मिलना आसान नहीं होता ये दर्जा आहिल्याबाई होलकर को मिला, आहिल्याबाई होलकर को राजनीति की गहरी समझ थी, उन्होंने 300 सौ साल पहले कहा कि मैं जनता की सेवक हॅू और अब नरेन्द्र मोदी जी जनता के सेवक बनकर देश की सेवा कर रहे है। उन्होंने उपस्थिति जन समुदाय से आह्वान करते हुए कहा कि अब समय आ गया है कि उ0प्र0 में भी जनभीदारी की सरकार हो और किसानों और पिछड़ो के विरोधियों को सबक सिखाने के लिए शंखनाद करें।

जनसभा को बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी ने भी संबोधित किया। उन्होंने कहा कि यूपी में चारों तरफ अराजकता का माहौल है। हर तरफ लूट-खसोट मची हुई है। हर आदमी अपने को ठगा महसूस कर रहा है। दूसरी ओर, प्रदेश सरकार सिर्फ लंबी-चैड़ी बातें करने और लोगों को लुभाने में लगी हुई है।