उत्तर कोरिया के रक्षा मंत्री को मौत की सजा

उत्तर कोरिया के रक्षा मंत्री को मौत की सजा

सोल: दक्षिण कोरिया की खुफिया एजेंसी ने आज कहा कि उत्तर कोरिया के रक्षा मंत्री ह्योन योंग-चोल को नेता किम जोंग-उन का अनादर करने और उनसे वफादारी नहीं करने के कारण ‘एंटी एयरक्राफ्ट फायर’ के जरिए गोला दागकर मौत की सजा दी गई है।

दक्षिण कोरिया की संवाद समिति योनहाप के अनुसार राष्ट्रीय खुफिया एजेंसी (एनआईएस) के उप निदेशक हान की-बियोम ने संसदीय समिति को बताया कि हजारों अधिकारियों ने ह्योन को 30 अप्रैल को मौत की सजा दिए जाते देखा।

योनहाप के अनुसार ह्योन को एक वर्ष से भी कम समय पहले पीपुल्स आर्म्ड फोर्सेस का मंत्री नियुक्त किया गया था लेकिन उसे औपचारिक सैन्य समारोहों में झपकी लेते और कई मौकों पर किम जोंग-उन से बहस करते देखा गया था।

हान ने समिति को बताया कि ह्योन को गोला दागकर मौत की सजा दी गई। कई अपुष्ट रिपोर्ट का कहना है कि अधिकारी जब लोगों के सामने उदाहरण पेश करना चाहते हैं तो इस तरीके से मौत की सजा दी जाती है।