मुख्यमंत्री ने शुरू की लोहिया ग्रामीण बस सेवा

मुख्यमंत्री ने शुरू की लोहिया ग्रामीण बस सेवा

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि सरकार ने ऐसे ग्रामीण क्षेत्रों में 25 प्रतिशत किराए में छूट के साथ बस सेवा प्रारम्भ की, जहां अभी तक आवागमन का कोई सार्वजनिक साधन नहीं था। लोहिया ग्रामीण बस सेवा के नाम से शुरू की गई इस योजना को ग्रामीण जनता बेहद पसन्द कर रही है। उन्होंने इसके लिए परिवहन निगम की सराहना करते हुए कहा कि प्रदेश की आबादी एवं क्षेत्रफल को देखते हुए इस सेवा का और अधिक विस्तार किया जाना चाहिए। 

मुख्यमंत्री आज यहां अपने सरकारी आवास पर समाजवादी शीतल पेयजल (वाटर ए.टी.एम.) योजना, 149 स्वचालित पूछताछ सेवा, 14164.92 लाख रुपये की लागत से 25 आधुनिक बस स्टेशनों के निर्माण का शिलान्यास तथा सुपर लग्जरी स्कैनिया ए.सी. बसों के संचालन के शुभारम्भ अवसर पर अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। उन्होंने कहा कि इतने कम दाम पर यात्रियों को शुद्ध शीतल पेयजल उपलब्ध कराने का प्रयास राज्य सरकार की समाजवादी सोच का नतीजा है। वाटर ए.टी.एम. अधिक से अधिक बस स्टेशनों पर लगाए जाने चाहिए। वाटर ए.टी.एम. मशीन से शुद्ध पेयजल 01 रुपये प्रति लीटर तथा शुद्ध शीतल पेयजल 02 रुपये प्रति लीटर की दर से उपलब्ध होगा। 

श्री यादव ने कहा कि अधिकारियों के अच्छे कार्याें का लाभ जनता के साथ-साथ सरकार को भी मिलता है। सभी विभागों द्वारा किए जा रहे कार्याें की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि उनकी सरकार जनता को सीधे लाभ पहुंचाने का काम कर रही है। महिलाओं को सुरक्षित सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था उपलब्ध कराने के उद्देश्य से निगम द्वारा संचालित पिंक एक्सप्रेस महिला स्पेशल बस सेवा की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि इससे महिलाओं में आत्म विश्वास आएगा। उन्होंने कहा कि आज शिलान्यास किए गए 25 आधुनिक बस स्टेशनों के निर्माण के बाद बस स्टेशनों की सूरत बदल जाएगी। इन बस स्टेशनों पर वातानुकूलित यात्री प्रतीक्षालय, फूड प्लाजा, शाॅपिंग आर्केड एवं डिपार्टमेन्टल स्टोर, सामान्य क्लोक रूम आदि आधुनिक सुविधाओं की पूरी व्यवस्था होगी। आने वाले समय में इसी तरह से प्रदेश के अन्य बस स्टेशनों के निर्माण का काम भी कराया जाएगा। 

मुख्यमंत्री ने इस मौके पर सुपर लग्जरी स्कैनिया ए.सी. बस की चाभी परिवहन निगम के प्रबन्ध निदेशक मुकेश कुमार मेश्राम को सौंपते हुए भरोसा जताया कि शीघ्र ही उ0प्र0 परिवहन निगम अपने कार्याें और फैसलों की बदौलत देश के बेहतरीन परिवहन निगमों में शामिल होगा। प्रारम्भ में दो बसें लखनऊ-दिल्ली तथा एक-एक बस लखनऊ-आगरा एवं लखनऊ-गोरखपुर के लिए संचालित की जाएगी। उन्होंने बस को झण्डी दिखाकर रवाना किया। 

परिवहन निगम की स्वचालित पूछताछ सेवा (आई.वी.आर.एस.) डाॅयल ‘149’ का लोकार्पण करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसी सेवा शुरू करने वाला उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्य है। श्री यादव ने गोरखपुर परिवहन क्षेत्र के पांच बस चालकों रोहित लाल, अलाउद्दीन, गंगा प्रसाद वर्मा,  प्रेम नारायण तिवारी तथा  राज मंगल को नेपाल में राहत कार्य के दौरान किए गए प्रशंसनीय योगदान के लिए सम्मानित करते हुए कहा कि परिवहन निगम द्वारा भेजी गई 

जनपद लखीमपुर खीरी में आम लोगों के सहयोग से एकत्रित किए गए 77 लाख रुपये का चेक जिलाधिकारी किंजल सिंह ने भूकम्प पीडि़तों हेतु मुख्यमंत्री पीडि़त राहत कोष के लिए मुख्यमंत्री को प्रदान किया।

Lucknow, Uttar Pradesh, India