अल्पसंख्यकों का हित समाजवाद से सम्भव: थेरो

अल्पसंख्यकों का हित समाजवाद से सम्भव: थेरो

बुद्ध के विचारों में है समाजवाद की नींव: शिवपाल

लखनऊ: बौद्ध भिक्षु व महाबोधि सोसाइटी के महामंत्री भन्ते पी0 सिवली थेरो के नेतृत्व में बौद्धों के एक शिष्टमंडल ने समाजवादी नेता व लोकनिर्माण मंत्री शिवपाल सिंह यादव से उनके सरकारी आवास कालीदास मार्ग, लखनऊ पर मुलाकात व बौद्ध दर्शन तथा समाजवादी अवधारणाओं के साम्य बिन्दुओं पर चर्चा की। भन्ते ने अल्पसंख्यकों के हित के लिए समाजवादियों द्वारा किए गए संघर्षों और समाजवादी सरकार द्वारा चलाई गई बहुआयामी योजनाओं के लिए शिवपाल सिंह यादव को “खादा” पहनाकर सम्मानित किया और कहा कि उत्तर प्रदेश में अल्पसंख्यक सपा सरकार कार्यकाल के दौरान स्वयं को सुरक्षित और अपेक्षाकृत ताकतवर महसूस करते हैं।

मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने भन्ते को महान समाजवादी चिन्तक राममनोहर लोहिया द्वारा महात्मा बुद्ध पर लिखी गई पुस्तक भेंट की। उन्होंने शिष्टमंडल को बतलाया कि समाजवाद की कई मूल अवधारणायें महात्मा बुद्ध की शिक्षाओं से ली गई हैं। बौद्ध धर्म के बड़े और प्रमाणिक टिप्पणीकारों में भारतीय समाजवाद के पितामह आचार्य नरेन्द्रदेव का नाम बड़े सम्मान से लिया जाता है। बौद्धों की सुरक्षा के लिए समाजवादी सरकार प्रतिबद्ध है। अल्पसंख्यकों के लिए लोहिया जी ने विशेष अवसर का सिद्धान्त की व्याख़्या की थी जिसकी प्रेरणा उन्होंने त्रिपिटक से ली थी। महात्मा बुद्ध जिस तरह का समाज बनाना चाहते थे वह सिर्फ समाजवाद से सम्भव है। 

इस अवसर पर सोशलिस्ट काउन्सिल के सचिव दीपक मिश्र व धम्म सोसाइटी के अध्यक्ष महेन्द्र बुद्धपुत्त भी मौजूद थे।

Lucknow, Uttar Pradesh, India