कैरेबियन्स के दम पर केकेआर टॉप पर

कैरेबियन्स के दम पर केकेआर टॉप पर

रोमांचक मुकाबले में किंग्स इलेवन पंजाब को एक विकेट से हरा दिया

कोलकाता। कोलकाता नाइट राइडर्स ने ईडन गार्डंस स्टेडियम में आईपीएल-8 के एक बेहद रोमांचक मुकाबले में किंग्स इलेवन पंजाब को एक विकेट से हरा दिया। इसके साथ ही नाइट राइडर्स के 15 अंक हो गए हैं और वह अंकतालिका में शीर्ष पर पहुंच गया है। नाइट राइडर्स के सामने जीत के लिए 184 रनों का लक्ष्य था जिसे टीम ने नौ विकेट खोकर एक गेंद शेष रहते नौ विकेट खोकर हासिल कर लिया।

नाइट राइडर्स को आखिरी ओवर में आठ रनों की जरूरत थी और उसके तीन विकेट शेष थे। अनुरीत सिंह ने ऐसे समय में कसी गेंदबाजी करते हुए दो बल्लेबाजों को पवेलियन भेज दिया। आखिरी ओवर की दूसरी गेंद पर ब्रैड हॉग (5) रन आउट हो गए, फिर अनुरीत ने चौथी गेंद पर बेहद महत्वपूर्ण पारी खेलने वाले पीयूष चावला (18) को भी पवेलियन की राह दिखा दी।

IPL: रोमांचक मुकाबले में KKR ने पंजाब को हराया किंग्स इलेवन पंजाब ने ईडन गार्डन्स स्टेडियम में जारी इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आठवें संस्करण के 44वें मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया है।

चावला जब आउट हुए तब नाइट राइडर्स को दो गेंदों में एक रनों की जरूरत थी। सुनील नरेन ने आते ही एक लेग बाई की बदौलत रन चुराकर टीम को लक्ष्य तक पहुंचा दिया। इससे पूर्व, एक समय 11वें ओवर में 83 रनों पर चार विकेट खोकर बेहद मुश्किल में नजर आ रहे नाइट राइडर्स के लिए आंद्रे रसेल (51), युसूफ पठान (29) ने शानदार पारी खेली। दोनो बल्लेबाजों ने पांचवें विकेट के लिए 25 गेंदों में 53 रनों की तेज साझेदारी निभाई और टीम के लिए जीत की राहें खोल दी।

रसेल ने 21 गेंदों की पारी में पांच चौके और चार छक्के जमाए। पठान ने भी अपनी 19 गेंदों की पारी में तीन छक्के और एक चौका लगाया। रसेल ने 19 गेंदों में अर्धशतक पूरा कर आईपीएल-8 में सबसे तेज अर्धशतक के रिकॉर्ड की बराबरी की।

बहरहाल, नाइट राइडर्स की ओर से रोबिन उथप्पा (17) और कप्तान गौतम गंभीर (24) ने पहले विकेट के लिए 31 रन जोड़े। चौथे ओवर में अनुरीत सिंह ने उथप्पा को विकेटकीपर पार्थिव पटेल के हाथों कैच कराकर किंग्स इलेवन को पहली सफलता दिलाई।

इसके बाद मनीष पांडेय (22) और गंभीर ने दूसरे विकेट के लिए 32 रन जोड़ कर टीम की रनसंख्या को आगे बढ़ाना शुरू किया। ग्लेन मैक्सवेल ने आठवें ओवर में पांडेय को और फिर अगले ही ओवर में गुरकीरत सिंह ने गंभीर का विकेट लेकर नाइट राइडर्स को मुश्किल में ला दिया।

जल्द ही सूर्यकुमार यादव (9) भी पवेलियन लौट गए और टीम पर संकट के बादल गहराने लगे। इसके बाद रसेल और पठान ने मैच का रुख बदलने में अहम भूमिका निभाई। किंग्स इलेवन की ओर से अनुरीत सिंह और गुरकीरत सिंह ने दो-दो सफलताएं हासिल कीं।

इससे पहले, किंग्स इलेवन ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी चुनते हुए निर्धारित 20 ओवरों में पांच विकेट के नुकसान पर 183 रन जोड़े। ग्लैन मैक्सवेल ने 22 गेंदों में चार चौकों और तीन छक्कों की मदद से 43 रनों की पारी खेली। वहीं, डेविड मिलर 11 गेंदों में दो चौकों और इतने ही छक्कों की मदद से 27 रनों की पारी खेलकर नाबाद लौटे।

मिलर ने सारे चौके, छक्के आंद्रे रसेल द्वारा डाले गए मैच के आखिरी ओवर में लगाए और टीम के खाते में 21 रन जोड़ने में सफल रहे। नाइट राइडर्स की ओर से सुनील नरेन ने चार सफलताएं हासिल कीं। रसेल को एक विकेट मिला।

मुरली विजय (28) और मनन वोहरा (39) ने किंग्स इलेवन को बेहतर शुरुआत दिलाई। दोनों बल्लेबाजों ने संभलकर खेलते हुए पहले विकेट के लिए 5.5 ओवरों में 45 रन जोड़े। दिग्गज कैरेबियाई स्पिन गेंदबाज नरेन ने हालांकि पहले मुरली और फिर 11वें ओवर में वोहरा को पेविलयन भेजा।

इसके बाद रिद्धिमान साहा (33) और मैक्सवेल ने तीसरे विकेट के लिए केवल 34 गेंदों में 65 रन जोड़ कर किंग्स इलेवन को गति दी। नरेन ने यहां एक बार फिर किंग्स इलेवन को झटका दिया। पारी के 17वें ओवर की तीसरी गेंद पर नरेन ने पहले मैक्सवेल और फिर आखिरी गेंद पर साहा को आउट किया। गुरकीरत सिंह चार रन बनाकर आखिरी ओवर में आंद्रे रसेल का शिकार बने।