सनराइजर्स ने रायल्स को हराया

सनराइजर्स ने रायल्स को हराया

मुंबई: इयोन मोर्गन और शिखर धवन के तूफानी अर्धशतकों की मदद से सनराइजर्स हैदराबाद ने इंडियन प्रीमियर लीग के रोमांचक मैच में आज यहां राजस्थान रायल्स को सात रन से हरा दिया।

सनराइजर्स ने मोर्गन और धवन की पारियों की बदौलत चार विकेट पर 201 रन बनाए। इसके जवाब में स्टीवन स्मिथ  के अर्धशतक के बावजूद रायल्स की टीम सात विकेट पर 194 रन ही बना सकी। मोर्गन ने सिर्फ 28 गेंद की अपनी पारी में पांच छक्के और चार चौके मारे जबकि धवन की 35 गेंद की पारी में छह चौके और दो छक्के शामिल हैं। इन दोनों की तेजतर्रार पारियों की मदद से टीम ने अंतिम आठ ओवर में 105 रन जुटाए।

रायल्स की टीम अंतिम तीन ओवरों तक लक्ष्य के करीब पहुंचती नजर नहीं आ रही थी लेकिन जेम्स फाकनर , संजू सैमसन और क्रिस मौरिस ने अंत में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करके मैच को रोमांचक बना दिया। सनराइजर्स ने इसके साथ ही 16 अप्रैल को विशाखापट्टनम में रायल्स के हाथों छह विकेट की हार का बदला भी चुकता कर लिया।

सनराइजर्स की 10 मैचों में यह पांचवीं जीत है और उसके 10 अंक हो गए हैं। रायल्स की टीम 12 मैचों में चौथी हार के बावजूद 14 अंक के साथ दूसरे स्थान पर बनी हुई है। लक्ष्य का पीछा करने उतरे रायल्स की शुरूआत बेहद खराब रही। टीम ने नियमित अंतराल पर विकेट गंवाए और स्मिथ की उम्दा पारी के बावजूद कभी लक्ष्य हासिल करने की स्थिति में नहीं दिखी। रायल्स ने पहले ओवर में ही बेहतरीन फार्म में चल रहे अजिंक्य रहाणे का विकेट गंवा दिया। रहाणे ने भुवनेश्वर कुमार पर दो चौके मारे लेकिन पहले ओवर की अंतिम गेंद पर विकेटकीपर नमन ओझा को कैच दे बैठे।

कप्तान शेन वाटसन ने प्रवीण कुमार पर चौके के साथ खाता खोला और फिर भुवनेश्वर पर भी दो चौके मारे। इशांत शर्मा ने हालांकि उन्हें प्रवीण के हाथों कैच करा दिया। करूण नायर 10 गेंद में सिर्फ चार रन बनाने के बाद मोइजेस हेनरिक्स की गेंद पर ओझा को कैच देकर पवेलियन लौटे। स्मिथ ने एक छोर संभाले रखा। उन्होंने इशांत पर दो चौके जड़ने के बाद हेनरिक्स पर तीन चौकों के साथ 10 ओवर में टीम का स्कोर तीन विकेट पर 68 रन तक पहुंचाया। कर्ण शर्मा ने दीपक हुड्डा  को भुवनेश्वर के हाथों कैच कराकर टीम का स्कोर चार विकेट पर 77 रन किया।

फाकनर ने 12वें ओवर में इशांत पर दो छक्के मारे जबकि अगले ओवर में स्मिथ ने कर्ण दो छक्कों के साथ 32 गेंद में अर्धशतक पूरा किया और टीम का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया। रायल्स को जीत के लिए अंतिम छह ओवर में 85 रन चाहिए थे और रवि बोपारा ने ऐसे में स्मिथ को बोल्ड करके मेजबान टीम को करारा झटका दिया। स्मिथ ने 40 गेंद की अपनी पारी में नौ चौके और दो छक्के मारे।

फाकनर भी इसके बाद भुवनेश्वर की गेंद को बाउंड्री पर बोपारा के हाथों में खेल गए। सैमसन ने भुवनेश्वर पर लगातार छक्के जड़े लेकिन अगली गेंद पर बोल्ड हो गए। मौरिस ने 19वें ओवर में प्रवीण पर लगातार तीन छक्कों के साथ उम्मीद जगाई लेकिन अंतिम नौ गेंदों पर सिर्फ एक चौका लगा जिससे टीम जीत से महरूम रह गई। भुवनेश्वर ने सनराजर्स की ओर से 44 रन देकर तीन विकेट हासिल किए।

इससे पहले सनराइजर्स को कप्तान डेविड वार्नर और धवन ने 4.3 ओवर में 48 रन जोड़कर अच्छी शुरूआत दिलाई। धवन ने हुड्डा पर पारी के पहले ओवर में चौका जड़कर खाता खोला जबकि वार्नर ने भी इस स्पिनर पर लगातार दो चौके मारे। धवन ने धवल कुलकर्णी पर भी दो चौके जड़े। वार्नर ने वाटसन का स्वागत लगातार दो चौकों के साथ किया लेकिन अगली गेंद पर विकेटकीपर सैमसन को कैच दे बैठे। वार्नर ने 18 गेंद का सामना करते हुए पांच चौके मारे।

धवन ने इसके बाद मोइजेस हेनरिक्स  के साथ मिलकर पारी को आगे बढ़ाया। धवन ने प्रवीण तांबे पर डीप स्क्वायर लेग बाउंड्री पर छक्का मारा जबकि हेनरिक्स ने फाकनर पर दो चौके जड़े। तांबे ने हेनरिक्स को बोल्ड करके सनराइजर्स को दूसरा झटका दिया और धवन के साथ उनकी 41 रन की साझेदारी का अंत किया।

हेनरिक्स के आउट होने पर क्रीज पर उतरे मोर्गन ने वाटसन की लगातार गेंदों पर चौका और छक्का जड़कर अपने तेवर दिखाए। धवन ने भी हुड्डा की लगातार गेंदों पर छक्के और चौके के साथ 33 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। वह हालांकि अगले ओवर में जेम्स फाकनर की गेंद पर बोल्ड हो गए। मोर्गन ने इसके बाद मोर्चा संभाला। उन्होंने तांबे पर दो छक्के और एक चौका जड़कर 16वें ओवर में टीम का स्कोर 150 रन के पार पहुंचाने के बाद अगले ओवर में मौरिस पर दो चौके और एक छक्के के साथ सिर्फ 23 गेंद में अर्धशतक पूरा किया।

मोर्गन ने वाटसन पर भी लांग आन पर छक्का जड़ा लेकिन अगली गेंद पर बाउंड्री पर स्मिथ को कैच दे बैठे। उन्होंने बोपारा के साथ 53 रन की साझेदारी की जिसमें बोपारा का योगदान सिर्फ छह रन का रहा। बोपारा और नमन ओझा  ने पारी के अंतिम ओवर में टीम का स्कोर 200 रन के पार पहुंचाया। वाटसन ने 36 रन देकर दो विकेट हासिल किए जबकि तांबे और फाकनर को एक एक विकेट मिला।