टॉप फोर में पहुंचे डेविल्स

टॉप फोर में पहुंचे डेविल्स

किंग्स इलेवन पंजाब को 9 विकेट से हराया 

नई दिल्ली: धारदार गेंदबाजी के बाद सलामी बल्लेबाजों श्रेयस अय्यर और मयंक अग्रवाल के अर्धशतकों और दोनों के बीच शतकीय साझेदारी से दिल्ली डेयरडेविल्स ने इंडियन प्रीमियर लीग मैच में आज यहां फिरोजशाह कोटला मैदान पर एकतरफा मुकाबले में किंग्स इलेवन पंजाब को नौ विकेट से हराकर अंक तालिका में चौथे स्थान पर पहुंच गया।

पंजाब के 119 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए डेयरडेविल्स ने अय्यर और अग्रवाल के बीच पहले विकेट की 106 रन की साझेदारी की बदौलत 13.5 ओवर में एक विकेट पर 119 रन बनाकर आसान जीत दर्ज की। टीम ने इसके साथ ही पिछले मैच में रायल चैलेंजर्स बेंगलूर के हाथों 10 विकेट की हार के बाद जोरदार वापसी की।

अय्यर ने 40 गेंद की अपनी पारी में चार चौके और तीन छक्के मारे जबकि अग्रवाल ने 40 गेंद का सामना करते हुए छह चौके और एक छक्का जड़ा। इससे पहले नाथन कोल्टर नाइल और चोट के बाद वापसी कर रहे जहीर खान पर दो  की तूफानी गेंदबाजी के सामने पंजाब की टीम आठ विकेट पर 118 रन ही बना सकी। कप्तान जेपी डुमिनी ने भी किफायती गेंदबाजी करते हुए चार ओवर में 15 रन देकर एक विकेट हासिल किया। मेजबान टीम के गेंदबाजों के दबदबे का अंदाजा इस बात से लग सकता है कि पूरी पारी में सिर्फ नौ चौके और तीन छक्के लगे।

इस जीत से दिल्ली के आठ मैचों में चार जीत से आठ अंक हो गए हैं और वह अंक तालिका में चौथे स्थान पर पहुंच गया है। आठ मैचों में छठी हार के बाद किंग्स इलेवन चार अंक के साथ अंतिम स्थान पर है। आईपीएल आठ में किंग्स इलेवन पर दिल्ली की यह दूसरी जीत है। इससे पहले डेयरडेविल्स ने 15 अप्रैल को पुणे में भी पंजाब की टीम को पांच विकेट से हराया था। पिछले सो में कोटला पर एक भी मैच जीतने में नाकाम रही दिल्ली ने इस बार पांच मैचों में से दो मैचों में जीत दर्ज की जबकि तीन मैचों में उसे हार का सामना करना पड़ा। लक्ष्य का पीछा करने उतरे डेयरडेविल्स को सलामी बल्लेबाजों ने अच्छी शुरूआत दिलाई। अय्यर ने शुरू से ही आक्रामक रवैया अपनाया। उन्होंने शारदुल ठाकुर के पारी के दूसरे ओवर में दो छक्के और एक चौका मारा। मयंक अग्रवाल ने भी तेज गेंदबाज संदीप शर्मा पर मिडविकेट के उपर से छक्का जड़ा। श्रेयष ने तिषारा परेरा पर एक रन के साथ सातवें ओवर में टीम के 50 रन पूरे किए।

अय्यर ने अक्षर पटेल पर मिड विकेट के उपर से छक्का जड़ने के बाद अनुरीत सिंह पर भी लगातार दो चौके मारे। उन्होंने तिषारा परेरा पर चौके के साथ 38 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। अग्रवाल ने इसी ओवर में चौके के साथ 12वें ओवर में टीम के रनों का शतक पूरा किया। दिल्ली को अंतिम आठ ओवर में जीत के लिए 18 रन की दरकार थी और उसे यह लक्ष्य हासिल करने में कोई परेशानी नहीं हुई। टीम ने हालांकि अय्यर का विकेट गंवाया। उन्होंेने ठाकुर की गेंद पर अक्षर को कैच थमाया।

अग्रवाल ने ठाकुर पर चौके के साथ 39 गेंद में अर्धशतक पूरा किया जबकि अक्षर पटेल की वाइड के साथ टीम ने जीत दर्ज की। सौरभ तिवारी पांच रन बनाकर नाबाद रहे। इससे पहले डेविड मिलर और अक्षर पटेल ने सातवें विकेट के लिए 57 रन की साझेदारी करके किंग्स इलेवन को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया। मिलर ने 42 गेंद की अपनी पारी में चार चौके और एक छक्का जड़ा जबकि अक्षर की 26 गेंद की पारी में एक छक्का शामिल रहा। इन दोनों के अलावा कप्तान जार्ज बैली ही दोहरे अंक में पहुंच पाए।

डुमिनी ने टास जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया और आईपीएल आठ में पहला मैच खेल रहे जहीर ने टीम को शानदार शुरूआत दिलाई। बायें हाथ के इस तेज गेंदबाज ने मैच की दूसरी ही गेंद पर वीरेंद्र सहवाग को प्वाइंट पर एंजेलो मैथ्यूज के हाथों कैच कराया। डुमिनी ने अगले ओवर की पहली गेंद पर शान मार्श को पगबाधा आउट करके दिल्ली को दूसरी सफलता दिलाई। जहीर ने अपने अगले ओवर में सलामी बल्लेबाज मनन वोहरा को विकेटकीपर केदार जाधव के हाथों कराया जबकि रिद्धिमान साहा भी कोल्टर नाइल की गेंद पर विकेटकीपर को कैच दे बैठे जिससे पंजाब का स्कोर चार विकेट पर 10 रन हो गया। कप्तान बैली ने कोल्टर नाइल पर दो चौके जड़े लेकिन इसके बावजूद टीम पावर प्ले में चार विकेट पर 27 रन ही बना सकी। लेग स्पिनर अमित मिश्रा ने बैली को पगबाधा आउट करके पंजाब को पांचवां झटका दिया। उन्होंने 16 गेंद में तीन चौकों की मदद से 18 रन बनाए। तिषारा परेरा भी सिर्फ तीन रन बनाने के बाद कोल्टर नाइल की गेंद पर सौरभ तिवारी को कैच दे बैठे।

अक्षर और मिलर ने इसके बाद पारी को संभाला। अक्षर ने मिश्रा पर एक रन के साथ 12वें ओवर में टीम का स्कोर 50 रन तक पहुंचाया। मिलर ने एक छोर संभाले रखा लेकिन रन गति में इजाफा करने में नाकाम रहे। अक्षर ने इमरान ताहिर पर छक्के के साथ 39 गेंद के बाउंड्री के सूखे को खत्म किया। मिलर ने भी मैथ्यूज के अगले ओवर में दो चौके मारे और फिर ताहिर की लगातार गेंदों को छक्के और चौके के लिए भेजा। दोनों ने 18वें ओवर में टीम का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया।

कोल्टर नाइल ने इसके बाद गेंदबाजी आक्रमण में वापसी करते हुए अक्षर को लांग आन पर मयंक अग्रवाल के हाथों कैच कराके इस साझेदारी को तोड़ा। मिलर भी इसी ओवर में तिवारी को कैच दे बैठे। ताहिर काफी महंगे साबित हुए और उन्होंने तीन ओवर में 36 रन लुटाए जबकि उन्हें कोई विकेट नहीं मिला। दिल्ली डेयरडेविल्स ने कैंसर के प्रति जागरूकता के लिए अपने खिलाड़ी युवराज सिंह की फाउंडेशन ‘यूवीकैन’ के साथ साझेदारी की और आज के मैच में टीम अपनी नियमित पोशाक की जगह हल्की बैंगनी रंग की पोशाक के साथ उतरी। युवराज स्वयं कैंसर से पीड़ित रहे हैं।