15000 पहुँच सकती है भूकम्प से मरने वालों की संख्या: नेपाली सेनाध्यक्ष

15000 पहुँच सकती है भूकम्प से मरने वालों की संख्या: नेपाली सेनाध्यक्ष

काठमांडू। नेपाल के सेनाध्यक्ष ने कहा है कि नेपाल में भूकंप से मरनेवालों का आकड़ा 15 हजार तक जा सकता है। सेनाध्यक्ष नेपाल में आई तबाही को सात दिन हो गए हैं और राहत-बचाव का काम जोर-शोर से जारी है। वहीं हताहत लोगों का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है। हालांकि नेपाल के गृह मंत्रालय के मुताबिक, भूकंप से अब तक कुल 6,200 मौतें हो चुकी हैं और 13,932 लोग गंभीर रूप से घायल हैं। लेकिन सेनाध्यक्ष गौरव राणा का कहना है कि ये आकड़ा 15 हजार तक जा सकता है।

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और विदेश सचिव एस जयशंकर काठमांडू पहुंचे हैं। यहां वो प्रधानमंत्री सुशील कोइराला से मुलाकात करेंगे और राहत-बचाव कार्य का जायजा लेंगे।

नेपाली सेनाध्यक्ष का दावा, 15 हजार लोगों की मौत! नेपाल के सेनाध्यक्ष ने कहा है कि नेपाल में भूकंप से मरनेवालों का आकड़ा 15 हजार तक जा सकता है। नेपाल में आई तबाही को सात दिन हो गए हैं और राहत-बचाव का काम जोर-शोर से जारी है।

बचाव कार्य में 1,19,384 सुरक्षाकर्मी दिन रात जुटे हुए हैं, लेकिन पहले ही इतना नुकसान हो चुका है कि मरने वालों की संख्या और बढ़ने की आशंका है। अंतरराष्ट्रीय मीडिया में आई खबरों के मुताबिक नेपाल आर्मी चीफ गौरव राणा ने कहा, कि हमारे अनुमान गलत होते लग रहे हैं।

राहत टीमों पर हमले की खबर बेघर और भूखे भूकंप पीड़ित राहत कार्य की कथित 'सुस्त चाल' से खफा बताए जा रहे हैं। बेबसी का आलम यह है कि गुरुवार को राहत टीमों पर हमलों की खबर भी आई। भूकंप पीड़ितों की शिकायत है कि एयरपोर्ट पर राहत सामान का भंडार लगा है, लेकिन वह समय से पीड़ितों तक नहीं पहुंच रहा।