छेड़छाड़ का विरोध करने पर माँ-बेटी को बस से फेंका, बच्ची की मौत

छेड़छाड़ का विरोध करने पर माँ-बेटी को बस से फेंका, बच्ची की मौत

अमृतसर: पंजाब के मोगा में छेड़खानी का विरोध करने पर एक 14 साल की लड़की और उसकी मां को चलती बस से फेंकने का मामला सामने आया है। इस हमले में बच्ची की मौत हो गई जबकि मां का अस्पताल में इलाज जारी है।

पीड़ित महिला के मुताबिक, वह अपनी बेटी और बेटे के साथ गुरुद्वारे जाने के लिए बस में सफर कर रही थी, उसी दौरान बस में मौजूद 6-7 बदमाशों ने उनसे और बेटी के साथ छेड़छाड़ शुरू कर दी। जब उन्होंने इस छेड़छाड़ का विरोध किया तो बदमाशों ने इन्हें चलती बस से फेंक दिया।

पीड़िता ने बताया, हमारे साथ छेड़खानी की। हम कुछ कह नहीं पाए। बस में भी किसी ने इनको नहीं रोका। इसके बाद हमको बस से धक्का दे दिया गया। धक्का देने वालों में कंडक्टर भी था। महिला ने बस के ड्राइवर से भी बस रोकने की गुहार लगाई, लेकिन वह बस को दौड़ाता रहा।

दोनों को बस से फेंक देने के घंटेभर बाद मेडिकल हेल्प मिली, लेकिन बेटी सड़क पर ही दम तोड़ चुकी थी।

वहीं दूसरी ओर पुलिस का कहना है कि वह मामले की निष्पक्ष तरीके से जांच करेगी और दोषियों को बख़्शा नहीं जाएगा। आरोपियों पर धारा 302 का केस दर्ज किया गया है। बस को हालांकि ढूंढ लिया गया है, लेकिन ड्राइवर और कंडक्टर की तलाश अभी जारी है।

जानकारी के अनुसार यह बस राज्य के मजबूत राजनैतिक घराने की है।

India