मलिंगा, मैकलेनाघन दिलाई मुंबई इंडियंस को दूसरी जीत

मलिंगा, मैकलेनाघन दिलाई मुंबई इंडियंस को दूसरी जीत

मुंबई : लेंडल सिमंस के जुझारू अर्धशतक के बाद लसिथ मलिंगा और मिशेल मैकलेनाघन की तूफानी गेंदबाजी से मुंबई इंडियन्स ने आईपीएल आठ में आज यहां सनराइजर्स हैदराबाद को 20 रन से हराकर दूसरी जीत दर्ज की।

मुंबई ने भुवनेश्वर (26 रन पर तीन विकेट), प्रवीण कुमार (35 रन पर दो विकेट) और डेल स्टेन (38 रन पर दो विकेट) की धारदार गेंदबाजी के बीच सिमंस (51) की उम्दा पारी की मदद से आठ विकेट पर 157 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया। इसके जवाब में सनराइजर्स की टीम लसिथ मलिंगा (23 रन पर चार विकेट) और मैकलेनाघन (20 रन पर तीन विकेट) की जबर्दस्त गेंदबाजी के सामने आठ विकेट पर 137 रन ही बना सकी।

मुंबई की सात मैचों में यह दूसरी जीत है और उसके चार अंक हो गए हैं। छह मैचों में चौथी हार के बाद सनराइजर्स के भी चार ही अंक हैं। मुंबई की टीम हालांकि खराब नेट रन रेट के कारण अब भी आठ टीमों में अंतिम स्थान पर चल रही है। लक्ष्य का पीछा करने उतरे सनराइजर्स को सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (42) ने तूफानी शुरुआत दिलाई। उन्होंने कप्तान डेविड वार्नर (09) के साथ पहले विकेट के लिए सिर्फ पांच ओवर में 45 रन जोड़े। धवन ने चौथे ओवर में हरभजन सिंह को निशाना बनाते हुए उन पर तीन चौकों और एक छक्के के साथ 18 रन जोड़े।

मलिंगा ने वार्नर को थर्डमैन पर अंबाती रायुडू के हाथों कैच कराकर सनराइजर्स को पहला झटका दिया। धवन भी अगले ओवर में मैकलेनाघन की गेंद पर मिड विकेट पर मलिंगा को कैच दे बैठे। धवन ने 29 गेंद में सात चौके और एक छक्का मारा। लगातार ओवरों में सलामी बल्लेबाजों के विकेट गंवाने के बाद सनराइजर्स की टीम दबाव में आ गई और फिर इससे उबरने में नाकाम रही।  बायें हाथ के युवा स्पिनर जगदीश सुचित ने नमन ओझा (09) को लांग आफ पर पोलार्ड के हाथों कैच कराके सनराइजर्स का स्कोर तीन विकेट पर 68 रन किया।

सनराइजर्स को इस बीच बाउंड्री के लिए जूझना पड़ा। टीम 42 गेंद तक कोई बाउंड्री नहीं लगा पाई। लोकेश राहुल ने 13वें ओवर में सुचित पर छक्के के साथ बाउंड्री के सूखे को खत्म किया। रवि बोपारा ने भी इस ओवर में चौका मारा। बोपारा ने मैकलेनाघन पर दो रन के साथ 15वें ओवर में टीम के रनों का सैकड़ा पूरा किया लेकिन इस तेज गेंदबाज ने इसी ओवर में राहुल को लांग आफ पर रायुडू के हाथों कैच करा दिया। राहुल ने 27 गेंद में एक छक्के की मदद से 25 रन बनाए।

सनराइजर्स को अंतिम पांच ओवर में जीत के लिए 54 रन की दरकार थी। हनुमा विहारी ने आर विनयकुमार पर दो चौके जड़ने के बाद मलिंगा पर भी चौके के साथ रन गति बढ़ाने की कोशिश की। बोपारा हालांकि मैकलेनाघन की गेंद पर स्थानापन्न खिलाड़ी हार्दिक पांड्या को कैच दे बैठे जिससे टीम की जीत की रही सही उम्मीद भी टूट गई। बोपारा ने 27 गेंद में 23 रन बनाए।

मलिंगा ने 19वां ओवर मेडन फेंका और साथ ही विहारी (16), प्रवीण कुमार (00) और डेल स्टेन (00) को आउट किया। इससे पहले सिमंस ने 42 गेंद में छह चौकों और एक छक्के की मदद से 51 रन की पारी खेली। उनके अलावा कीरोन पोलार्ड ही टिककर खेल पाए जिन्होंने 24 गेंद में तीन चौकों और एक छक्के की मदद से 33 रन बनाए। उन्मुक्त चंद (05) ने स्टेन की पहली ही गेंद पर चौका जड़ा लेकिन प्रवीण की गेंद पर मिडविकेट पर धवन ने उनका आसान कैच पकड़ा।

सिमंस और कप्तान रोहित शर्मा (24) ने इसके बाद 51 रन जोड़कर पारी को संभालने की कोशिश की। सिमंस ने कर्ण शर्मा जबकि रोहित ने प्रवीण पर छक्का जड़ा। सिमंस ने 13वें ओवर में स्टेन पर लगातार दो चौकों के साथ 41 गेंद में अर्धशतक पूरा किया और टीम का स्कोर भी 100 रन तक पहुंचाया लेकिन अगली ही गेंद पर वह बोल्ड हो गए। रोहित भी इसके बाद कर्ण पर छक्का जड़ने की कोशिश में लांग आफ पर भुवनेश्वर को आसान कैच दे बैठे जिससे टीम का स्कोर चार विकेट पर 108 रन हो गया।

भुवनेश्वर ने अंबाती रायुडू (07) को पवेलियन भेजकर मुंबई को पांचवां झटका दिया जबकि हरभजन सिंह (00) ने प्रवीण की गेंद पर भुवेश्वर को कैच थमाया। पोलार्ड (33) ने हालांकि एक छोर संभाले रखा। उन्होंने प्रवीण की लगातार गेंदों पर चौका और छक्का मारा लेकिन भुवनेश्वर ने पारी के अंतिम ओवर में उन्हें बोल्ड कर दिया। भुवनेश्वर ने इसके बाद आर विनय कुमार (00) को भी पवेलियन भेजा। मुंबई की टीम अंतिम सात ओवर में सिर्फ 53 रन जोड़ पाई।