ट्रामा सेंटर की छत से कूदकर मरीज़ ने दी जान

ट्रामा सेंटर की छत से कूदकर मरीज़ ने दी जान

लखनऊ: ट्रॉमा सेंटर लखनऊ की छत से कूदकर आज एक मरीज़ ने जान दे दी । मिली जानकारी के अनुसार हरदोई के नेवादा के गड़रियन खेड़ा निवासी विनय पाल (29 वर्ष) पुत्र सकठू पाल अपने भाई संतोष के साथ इलाज के लिए ट्रॉमा सेंटर आया था। उसके पैर में चोट थी जिसे चेकअप कराने के बाद उसे एक्स-रे कराने की सलाह दी गई। जब उसका भाई संतोष पर्चा बनवाने के लिए लाइन में लगा था, तभी विनय मौका भाग गया और ट्रॉमा की छत पर चढ़ गया। ट्रॉमा सेंटर की छत पर एक युवक को कूदने का प्रयास करते देख वहां भीड़ जमा हो गयी । जब भीड़ ज़्यादा बड़ी और शोर मचने लगा तब भाई संतोष को विनय के ट्रॉमा बिल्डिंग पर चढ़ने की जानकारी मिली तो वह उसे बचाने के लिए वहां गया। पर अपने भाई संतोष को आया देखकर उसने बिल्डिंग से छलांग लगा दी। बताया जाता है कि विनय मानसिक रूप से अस्वस्‍थ था, पिछले दो साल से उसका इलाज चल रहा था। इतनी ऊंचाई से कूदने पर विनय की मौत हो गई। विनय की मौत के बाद ट्रामा सेंटर की सुरक्षा पर भी सवाल खड़े हुए हैं। ट्रॉमा सेंटर में भारी संख्या में सिक्योरिटी गॉर्ड तैनात रहते हैं फिर सवाल यह उठता है कि कोई बाहरी व्यक्ति ट्रॉमा सेंटर की छत पर कैसे पहुँच गया ।
Lucknow, Uttar Pradesh, India