पाकिस्तान के खिलाफ बांग्लादेश ने जीती पहली सीरीज़

पाकिस्तान के खिलाफ बांग्लादेश ने जीती पहली सीरीज़

दूसरे में 7 से विकेट से हराकर प्राप्त की अजेय बढ़त 

मीरपुर : सलामी बल्लेबाज तमीम इकबाल के लगातार दूसरे मैच में लगाये गये शतक और विकेटकीपर बल्लेबाज मुशफिकर रहीम के साथ उनकी शतकीय साझेदारी से बांग्लादेश ने दूसरे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में रविवार को यहां पाकिस्तान को 71 गेंद शेष रहते हुए सात विकेट से हराकर तीन मैचों की श्रृंखला में 2-0 की अजेय बढ़त हासिल की।

पाकिस्तान की टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए छह विकेट पर 239 रन ही बना पायी। वह इस स्कोर तक भी साद नसीम (नाबाद 77) और वहाब रियाज (40 गेंदों पर नाबाद 51) के बीच सातवें विकेट के लिये 85 रन की अटूट साझेदारी की बदौलत पहुंच पाया था। तमीम ने हालांकि पाकिस्तान के स्कोर बौना बना दिया। उन्होंने 116 गेंदों पर 116 रन बनाये जिसमें 17 चौके और एक छक्का शामिल है।

पहले मैच में 132 रन बनाने वाले बायें हाथ के इस बल्लेबाज ने मुशफिकर रहीम (65) के साथ तीसरे विकेट के लिये 118 रन की साझेदारी की जिससे बांग्लादेश ने केवल 38.1 ओवर में तीन विकेट पर 240 रन बनाकर इतिहास रचा। यह पहला अवसर है जबकि बांग्लादेश ने पाकिस्तान से द्विपक्षीय श्रृंखला जीती है। उसने इसी स्थान पर खेला गया पहला मैच 79 रन से जीता था। पाकिस्तान ने वनडे में लगातार पांचवीं द्विपक्षीय श्रृंखला गंवायी।

बांग्लादेश की जीत की नींव उसके गेंदबाजों ने रखी जिन्होंने अनुशासित प्रदर्शन करके पाकिस्तान को शीर्ष क्रम को झकझोर दिया जिससे वह बड़ा स्कोर खड़ा करने में नाकाम रहा। इसके बाद तमीम ने रही सही असर पूरी कर दी। उन्होंने पाकिस्तान के किसी भी गेंदबाज को नहीं बख्शा। तमीम ने सईद अजमल का स्वागत तीन चौकों से किया और पाकिस्तान के सबसे सफल गेंदबाज रियाज पर भी लगातार तीन चौके जड़कर प्रतिद्वंद्वी टीम का मनोबल तोड़ दिया। अजमल ने इस बीच महमुदुल्लाह (17) को आउट करके गेंदबाजी एक्शन में सुधार के बाद पहला विकेट हासिल किया।

इससे पहले पाकिस्तान ने टास जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया लेकिन उसकी शुरुआत अच्छी नहीं रही। कप्तान अजहर अली के 36 रन के बावजूद एक समय उसका स्कोर पांच विकेट पर 77 रन था। नसीम ने हारिस सोहेल (44) के साथ छठे विकेट के लिये 77 रन जोड़कर टीम को शुरूआती झटकों से उबारने की कोशिश की थी। अजहर और सरफराज अहमद (सात) ने पहले विकेट के लिये 36 रन जोड़े लेकिन इसके बाद उदसका शीर्ष क्रम लड़खड़ा गया। तेज गेंदबाज रूबेल हुसैन ने सरफराज को स्लिप में सौम्या सरकार के हाथों कैच कराया जबकि स्पिनर अराफात सनी ने अगले ओवर में मोहम्मद हफीज को पवेलियन भेजा जो खाता भी नहीं खोल पाये।

बायें हाथ के स्पिनर शाकिब अल हसन ने अजहर को विकेटकीपर मुशफिकर रहीम के हाथों कैच कराने के बाद मोहम्मद रिजवान (13) को पगबाधा आउट किया। इस बीच नासिर हुसैन ने फवाद आलम को बोल्ड कर दिया था। बांग्लादेश की टीम में कप्तान मशरेफी मुर्तजा ने भी वापसी की है जो विश्व कप के दौरान धीमी ओवर गति के कारण पहले मैच में नहीं खेल पाये थे। बांग्लादेश ने पहला मैच 79 रन से जीता था। अपना 150वां वनडे खेल रहे मुर्तजा ने सोहेल की जुझारू पारी का अंत किया।