लैंड बिल पर मोदी के दावों की पोल खोलेगी कांग्रेस

लैंड बिल पर मोदी के दावों की पोल खोलेगी कांग्रेस

नई दिल्ली : कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के छुट्टी से लौटने के बाद उनका पूरा सहयोग एवं समर्थन करने में जुटी पार्टी ने शनिवार को 'जमीन वापसी' नाम से एक वेबसाइट लॉन्च की। इस वेबसाइट के जरिए कांग्रेस भूमि विधेयक पर मोदी सरकार के दावे की पोल खोलेगी। राहुल गांधी ने आज देश भर से आए किसानों से मुलाकात की और भूमि विधेयक को लेकर उनकी समस्याएं सुनीं।

पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘कांग्रेस नीत संप्रग द्वारा 2013 में लाया गया भूमि विधेयक समग्र था वहीं भाजपा सरकार द्वारा प्रस्तावित नये संशोधन किसी भी तरह से किसानों के फायदे के नहीं हैं बल्कि किसान-विरोधी हैं।’ उन्होंने कहा कि राजग सरकार संशोधनों के संबंध में झूठ बोल रही है और रक्षा तथा राष्ट्रीय सुरक्षा की परियोजनाओं के लिए सहमति का, सामाजिक प्रभाव आकलन का कोई प्रावधान नहीं है।

रमेश ने औद्योगिक कॉरिडोर के किसी एक तरफ एक किलोमीटर का इस्तेमाल निजी पक्षों द्वारा किये जा सकने के प्रावधान के माध्यम से भूमि माफियाओं को बढ़ावा दिये जाने का आरोप लगाते हुए इस संबंध में परिवहन मंत्री नितिन गडकरी की आलोचना की।

कांग्रेस पहले ही यह स्पष्ट कर चुकी है कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी रविवार को पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी के साथ किसानों की रैली को संबोधित करेंगे। यह रैली एक प्रकार से राहुल गांधी की वापसी की घोषणा और पार्टी द्वारा अपनी शक्ति के प्रदर्शन के रूप में देखी जा रही है। कांग्रेस भूमि अधिग्रहण संबंधी मूल अधिनियम में किए गए बदलावों का कड़ा विरोध कर रही है।

कांग्रेस को ‘चलो दिल्ली चलो’ के अपने नारे के साथ देश के विभिन्न भागों से बड़ी संख्या में लोगों के रैली में पहुंचने की उम्मीद है।

India