खट्टर ने खेमका को पुरातात्विक वस्तु मान संग्रहालय भेजा

खट्टर ने खेमका को पुरातात्विक वस्तु मान संग्रहालय भेजा

चंडीगढ़। राबर्ट वाड्रा के जमीन सौदों में अनियमितताएं उजागर करने वाले आईएएस अधिकारी डॉ. अशोक खेमका खट्टर सरकार को भी रास नहीं आए। खेमका को मनोहर सरकार ने किनारे लगा दिया है। उन्हें परिवहन विभाग के आयुक्त एवं सचिव पद से हटाकर पुरातत्व एवं संग्रहालय विभाग का सचिव और महानिदेशक नियुक्त किया गया है। खेमका का 24 सालों में यह 45वां तबादला है। सरकार ने खेमका समेत नौ वरिष्ठ आईएएस अधिकारियों के तबादले किए हैं।

वहीं जिन नौ लोगों का तबादला किया गया है। उनमें पूर्व मुख्यमंत्री भुपिंदर सिंह हुड्डा के राज में पूर्व प्रमुख सचिव एसएस ढिलोन का नाम भी शामिल है। ढिलोन को अब एडिशनल चीफ सेक्रेटरी व परिवहन और नागरिक उड्डयन विभाग सौंपा गया है। जबकि मुख्यमंत्री की अतिरिक्त प्रधान सचिव (प्रथम) सुमिता मिश्रा को मुख्यमंत्री कार्यालय से हटाकर पर्यटन विभाग की प्रधान सचिव बनाया गया है। 

गौरतलब है कि पिछले साल ही मनोहर लाल खट्टर के हरियाणा के मुख्यमंत्री के तौर पर पद्भार संभालने के बाद ही खेमका को परिवहन विभाग के आयुक्त एवं सचिव के रूप में नियुक्त किया गया था। 

India