मेरे खिलाफ लगाए गए आरोप झूठे

मेरे खिलाफ लगाए गए आरोप झूठे

हिट एंड रन केस में कोर्ट में पेश हुए सलमान खान 

मुंबई : हिट एंड रन मामले में अपने खिलाफ लगाए गए आरोपों को ‘झूठा’ करार देते हुए बालीवुड अभिनेता सलमान खान ने शुक्रवार को अदालत में कहा कि वह 2002 में हुए हादसे के समय कार नहीं चला रहे रहे थे। इस हादसे में एक व्यक्ति मारा गया था और चार अन्य घायल हुए थे।

49 वर्षीय अभिनेता ने कहा कि कार उनका ड्राइवर चला रहा था। उन्होंने अभियोजन पक्ष के इन आरोपों से भी इंकार किया कि हादसे से कुछ ही समय पहले उन्होंने शराब पी थी।

सफेद कमीज और नीले रंग की डेनिम जींस पहने अदालत में आए सलमान ने न्यायाधीश डी डब्ल्यू देशपांडे द्वारा पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए कहा, ‘जिस समय हादसा हुआ, मेरा ड्राइवर अशोक सिंह कार चला रहा था।’ सलमान को उनके खिलाफ पेश किए गए सबूतों पर आपराधिक प्रक्रिया संहिता की धारा 313 के तहत बयान देने के लिए सुनवाई के दौरान अदालत में समन किया गया था। न्यायाधीश ने उनसे 418 सवाल किए।

28 दिसंबर 2002 को तड़के मुंह अंधेरे सलमान की कार उपनगर बांद्रा में एक बेकरी में जा घुसी थी। इस हादसे में एक व्यक्ति मारा गया और फुटपाथ पर सो रहे चार अन्य लोग घायल हो गए थे। अभियोजन पक्ष के अनुसार, सलमान कार चला रहे थे और हादसे के समय शराब के नशे में थे। इस आरोप से सलमान ने इंकार किया है।

अदालत द्वारा यह कहे जाने पर कि उनका उनके खिलाफ मामले में क्या कहना है तो सलमान ने कहा, ‘मैं खुद से पूछताछ नहीं करना चाहता लेकिन मैं बचाव पक्ष के गवाहों से पूछताछ करना चाहूंगा।’ सलमान खान ने आगे कहा कि अदालत में उनके खिलाफ पेश किए गए सारे सबूत ‘झूठे’ हैं। उन्होंने हादसे से कुछ ही समय पहले एक बार में शराब पीने के आरोप से भी इंकार किया जहां वह अपने भाई सोहेल खान तथा मित्रों के साथ गए थे।

उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा, ‘मैंने बार में एक गिलास पानी पिया था।’ अभिनेता ने यह भी कहा कि उनके रक्त के नमूने की जांच करने वाला बाला शंकर विशेषज्ञ नहीं था। वह इस गवाह की गवाही का जवाब दे रहे थे जिसने अदालत को पूर्व में बताया था कि खान के रक्त के नमूने में 62 मिलीग्राम अल्कोहल पायी गयी थी जो निर्धारित सीमा से ऊपर थी। यह इस बात का संकेत है कि अभिनेता ने हादसे से पूर्व शराब पी थी।

सलमान खान ने न्यायाधीश को यह भी बताया कि रक्त के नमूने की जांच करते समय रसायन विश्लेषक विशेषज्ञ ने जांच के लिए निर्धारित प्रक्रिया का पालन नहीं किया। खान को दुर्घटनास्थल के तीन फोटोग्राफ दिखाए गए जिनकी उन्होंने शिनाख्त की। ये फोटो पूर्व में अभियोजन पक्ष ने पेश किए थे।