प्रदेश सरकार की आँखों पर बंधी है सत्ता की पट्टी: चौहान

प्रदेश सरकार की आँखों पर बंधी है सत्ता की पट्टी: चौहान

लखनऊ। “किसानों व नौजवानों के हक की लड़ाई के लिए आगामी 31 मार्च को राष्ट्रीय लोकदल द्वारा प्रदेश  के सभी जिला मुख्यालयों पर धरना प्रदर्शन किया जायेगा” यह घोषणा करते हुये राष्ट्रीय लोकदल के प्रदेश अध्यक्ष मुन्ना सिंह चैहान ने कहा कि बेमौसम बारिश से फसल बर्बादी के कारण किसानों की मौतों का सिलसिला थम नहीं रहा है और प्रदेश सरकार कह रही है कि 27 फरवरी से 15 मार्च के बीच सिर्फ 25 किसानों की मौत हुयी है परन्तु किसी किसान ने आत्महत्या नहीं की है इससे साबित होता है कि सरकार की आंखों पर सत्ता की पटटी बंधी होेने के कारण किसानों का दुख दर्द दिखाई नहीं देता। 

चौहान  ने प्रदेश  सरकार को किसानों की अनदेखी का आरोप लगाते हुये कहा कि पहले तो प्रदेश सरकार ने मिल मालिकों से मिलीभगत करके गन्ना किसानों को खूब ठगा और अब केन्द्र सरकार उनकी जमीन हथियानें के लिए षड़यंत्र रच रही है। उन्होंने आगे कहा कि पूरे सूबे के किसानों को लगातार कोई न कोई मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है पहले सूखे और बाढ़ ने किसानों को तबाह किया और अब असामयिक ओलावृष्टि ने किसानों की खून पसीने से सींची गयी फसलों को चैपट कर दिया है। जिससे समूचे किसान वर्ग पर पहाड़ टूट पड़ा है।

चौहान ने पुलिस भर्ती में की गयी धांधली की सी0बी0आई0 जांच की मांग करते हुये कहा कि नौजवान देश का भविष्य होते हैं और प्रदेश सरकार ने उन्हीं के साथ भेदभाव करते हुये धांधलेबाजी की है। उन्होंने कहा कि पुलिस भर्ती में बुलाए गये अभ्यर्थियों में अधिकतर इटावा, मैनपुरी और कन्नौज के हैं। इनकी संख्या 30 हजार से अधिक है, जबकि कुल करीब 55 हजार अभ्यर्थियों को बुलाया गया है। ओ0एम0आर0 सीट में मनाही के बावजूद व्हाइटनर का प्रयोग किया गया। प्रदेश सरकार ने किसानों और नौजवानों को धोखा दिया है जिन्होंने अपना वोट देकर सत्ता सौंपी थी परन्तु राष्ट्रीय लोकदल किसानों और नौजवानों के साथ हो रहे अन्याय को किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेगा और 31 मार्च को प्रदेश सरकार को घेरेगा। 

Lucknow, Uttar Pradesh, India