अद्भुत विचारों  के नेता थे डाॅ0 लोहिया: राज्यपाल

अद्भुत विचारों के नेता थे डाॅ0 लोहिया: राज्यपाल

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने आज लोहिया पार्क में डाॅ0 राम मनोहर लोहिया के 105वें जन्म दिवस समारोह को सम्बोधित करते हुए उन्हें अद्भुत विचारों वाला राजनेता बताया। डाॅ0 लोहिया में विभिन्न विचारों के व्यक्तियों एवं दलों को एक साथ लेकर सामूहिक उद्देश्य के लिए संघर्ष करने की प्रेरणा प्रदान करने का अद्भुत कौशल था। वे समाजवादी विचारधारा के वक्ता ही नहीं, भाष्यकार भी थे। 

मुख्यमंत्री ने डाॅ0 लोहिया के साथ-साथ भगत सिंह, राजगुरू एवं सुखदेव की शहादत को याद करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी। इस मौके पर उन्होंने कहा कि डाॅ0 लोहिया अपना जन्मदिन इसलिए नहीं मनाते थे, क्योंकि इसी दिन इन तीनों स्वतंत्रता सेनानियों को फांसी दी गई थी। उन्होंने समाजवादी कार्यकर्ताओं को समाजवाद से सम्बन्धित साहित्य का अध्ययन करते रहने की अपील करते हुए कहा कि इससे जहां समाजवाद के प्रति कार्यकर्ताओं के नजरिए में बदलाव आएगा, वहीं दल की विचारधारा भी मजबूत बनेगी। उन्होंने समाजवादी लेखक  दीपक मिश्र के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि बदलते हुए समय के साथ लेखन क्षेत्र में भी बदलाव आ रहा है। श्री मिश्र के प्रयासों से समाजवादी दर्शन का अध्ययन अब मोबाइल, इण्टरनेट आदि आधुनिक माध्यमों से भी किया जा सकता है। राज्य सरकार अपने विकास कार्यों एवं कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी एक एप के माध्यम से दूर-दराज के क्षेत्रों में जनता तक पहुंचाने के लिए काम कर रही है। 

श्री यादव ने कहा कि डाॅ0 लोहिया जिन सिद्धान्तों के लिए जीवनभर संघर्ष करते रहे, उसे साकार करने का काम नेताजी ने किया। समाजवादी सिद्धान्तों का प्रचार-प्रसार पड़ोसी राज्यों में भी करते हुए इसके दायरे को बढ़ाया जाना चाहिए। वर्तमान राज्य सरकार द्वारा प्रदेश में बुनियादी सुविधाओं के विकास के साथ-साथ संचालित विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि पार्टी ने जनता से जो वायदा किया था, उसे पूरा किया। राज्य सरकार के इन प्रयासों से प्रदेश में खुशहाली आएगी और लोगों के जीवन स्तर में सुधार होगा। सरकार गांव के साथ-साथ शहरों के विकास के लिए भी गम्भीरता से काम कर रही है। 

उत्तर प्रदेश देश का पहला ऐसा राज्य है, जिसकी राजधानी देश की राजधानी से एक्सप्रेस-वे के माध्यम से जुड़ने जा रही है। मुख्यमंत्री ने इसे देश का सबसे बड़ा एक्सप्रेस बताते हुए कहा कि राज्य सरकार उच्च स्तरीय सड़कें, स्वास्थ्य एवं चिकित्सा, शिक्षा, सिंचाई के साथ-साथ विद्युत व्यवस्था बेहतर करने के लिए काम कर रही है। सन् 2016 से सरकार ग्रामों में 16 घण्टे तथा नगरीय क्षेत्रों में 22 से 24 घण्टे तक विद्युत आपूर्ति करने के लिए पारेषण, वितरण एवं उत्पादन क्षेत्र में काफी काम कर रही है। विगत तीन वर्षों में सरकार द्वारा जितने बड़े पैमाने पर विद्युत उपकेन्द्रों की स्थापना तथा पारेषण लाइनों का विस्तार किया गया, इतने बड़े पैमाने पर इससे पहले कभी नहीं हुआ। शीघ्र ही 1000 मेगावाट की नयी विद्युत उत्पादन इकाई का संचालन शुरू हो जाएगा। इसके लगभग दो-तीन माह बाद दूसरी उत्पादन इकाई का लोकार्पण भी हो जाएगा। इस प्रकार प्रदेश द्वारा विद्युत उत्पादन को काफी वरीयता दी जा रही है। 

श्री यादव ने स्वास्थ्य एवं चिकित्सा के क्षेत्र में किए गए कार्यों की चर्चा करते हुए बताया कि ‘108’ समाजवादी स्वास्थ्य सेवा तथा ‘102’ नेशनल एम्बुलेंस सर्विस के तहत संचालित एम्बुलेंस सेवा से प्रदेश का हर व्यक्ति अवगत हो चुका है। इस सेवा के माध्यम से बिना किसी भेदभाव के लाखों लोगों को लाभ पहुंचा है। इसके साथ ही कई नये मेडिकल काॅलेजों तथा कैंसर एवं हृदय रोगों के इलाज के लिए संस्थानों की स्थापना का काम भी सरकार द्वारा किया जा रहा है। आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को गम्भीर बीमारियों केे इलाज के लिए विधायक निधि से मदद की व्यवस्था के साथ ही राज्य सरकार द्वारा बड़े पैमाने पर आर्थिक मदद दी गई है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार जहां सड़क एवं मेट्रो रेल का निर्माण करा रही है, वहीं बड़ी संख्या में मण्डियों की स्थापना तथा दुग्ध उत्पादन को भी बढ़ावा दिया जा रहा है। राज्य सरकार ने आगामी वित्तीय वर्ष को किसान वर्ष के रूप में मनाने का निर्णय लिया है। इससे किसानों को और अधिक सहूलियत देने में मदद मिलेगी। गन्ना किसानों की समस्याओं से राज्य सरकार वाकिफ है। इसके लिए बाजार में चीनी के कम दाम एवं आयातित चीनी को जिम्मेदार बताते हुए उन्होंने कहा कि गन्ना किसानों के भुगतान के लिए वर्तमान वित्तीय वर्ष में राज्य सरकार द्वारा आर्थिक मदद दी गई है। इसके अलावा आगामी वित्तीय वर्ष में भी धनराशि की व्यवस्था की गई है। उन्होंने आश्वस्त किया कि प्रत्येक किसान का एक-एक रुपए का भुगतान कराया जाएगा। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि समाजवादी सरकार जिस पैमाने पर विकास कार्यों को संचालित कर रही है, दूसरी राज्य सरकारें उसकी कल्पना भी नहीं कर सकतीं। उन्होंने निःशुल्क लैपटाॅप वितरण का उल्लेख करते हुए कहा कि लैपटाॅप वितरण की यह दुनिया की सबसे बड़ी योजना है, जिसे भ्रष्टाचार रहित ढंग से पूरा किया जा रहा है। राज्य सरकार हर क्षेत्र में परिवर्तन लाने के लिए काम कर रही है। 

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने सूचना विभाग द्वारा सम्पादित ‘पूरे हुए वादे-अब हैं नए इरादे’ तथा ‘न्याय और समता के प्रेरक-महापुरुष’ नामक दो पुस्तिकाओं तथा दीपक मिश्र द्वारा रचित ‘ई-बुक, ई-समाजवादी’ का लोकार्पण भी किया। 

इस अवसर पर पूर्व मुख्यमंत्री एवं सांसद मुलायम सिंह यादव ने राज्य सभा सदस्य प्रोफेसर राम गोपाल यादव द्वारा रचित ‘डाॅ0 लोहिया और उनका समाजवाद’ पुस्तक का लोकार्पण किया। उन्होंने समाजवादी विचारधारा में विश्वास रखने वाले सभी लोगों से इस पुस्तक को पढ़ने की अपील करते हुए कहा कि इससे डाॅ0 लोहिया एवं उनके समकालीन राजनैतिक दर्शन शास्त्रियों के विचारों को जानने एवं समझने का मौका मिलेगा। उन्होंने समता एवं सम्पन्नता के लिए संघर्ष करने का आहवान करते हुए कहा कि समाजवादी विचारधारा में विश्वास रखने वाले लोग हमेशा संघर्ष के लिए तैयार रहते हैं।

Lucknow, Uttar Pradesh, India