अंपायरों के कारण जीता भारत

अंपायरों के कारण जीता भारत

बांग्लादेश की प्रधानमंत्री ने लगाया अम्पायरों पर पक्षपात का आरोप 

नई दिल्ली। बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने आईसीसी बांग्लादेशी प्रेसीडेंट मुस्तफा कमाल के बयान का समर्थन करते हुए कहा है कि वर्ल्ड कप 2015 के क्वार्टर फाइनल मुकाबले में भारत उनके देश से अंपायरों की वजह से जीता है। शेख हसीना ने कहा कि अगर अंपायरिंग में गलती नहीं होती तो भारत बांग्लादेश को नहीं हरा पाता। वहीं शुक्रवार को कमाल ने वर्ल्ड कर क्वार्टर फाइनल में भारत-बांग्लादेश के बीच हुए मैच में अंपायरिंग को लेकर इस्तीफा देने की धमकी दी थी और कहा था कि ऐसा लग रहा था कि मानो ये मैच फिक्स हो।

बांग्लादेश के क्रिकेट प्रशंसकों के साथ आईसीसी के अध्यक्ष बांग्लादेश के मुस्तफा कमाल ने भी आशंका जताई थी, कि वर्ल्ड कप 2015 के क्वार्टर फाइनल में अंपायरों ने जानबूझकर गलत अंपायरिंग कर भारतीय टीम को फायदा पहुंचाया। आईसीसी के मुख्य कार्यकारी डेविड रिचर्डसन और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने हालांकि इस तरह के आरोपों को खारिज कर दिया है। कमाल ने कहा था कि हो सकता है कि उनके देश को इस टूर्नामेंट से बाहर करने के लिए ऐसा किया गया हो।

 ढाका में कमाल ने कहा, "मैं इस पर कुछ भी साफ-साफ नहीं कह सकता, लेकिन ऎसा लगता है कि यह जानबूझकर किया गया। मुझे पता है कि क्रिकेट में अंपायरों से अक्सर गलती होती है, लेकिन भला एक साथ 10-12 फैसले किस प्रकार गलत हो सकते हैं। कमाल के अनुसार, ऎसी अंपायरिंग देखकर वह खुद हैरान हैं। कमाल ने कहा, "मैं वहां मैदान में मौजूद था। जो भी हुआ वह मैंने देखा। एक मैच में इतनी सारी गलतियां नहीं हो सकतीं। इससे निश्चित रूप से प्रशंसक गुस्से में हैं।