महान संगकारा की निराशाजनक बिदाई

महान संगकारा की निराशाजनक बिदाई

सिडनी।  क्रिकेट वर्ल्ड कप क़्वार्टर फाइनल दौर की ऐसी शुरुआत की कल्पना तो किसी ने भी नहीं की होगी । फैसला तो कुछ भी हो सकता था, लेकिन इस बुरी तरह किसी टीम को नहीं हारना चाहिए था। उम्मीद यही थी कि बेहतरीन बल्लेबाजी तो जरूर देखने को मिलेगी। रनों के पहाड़ खड़ा कर जो टीम यहां तक पहुंची है उनसे यह डर तो शायद ही किसी को रहा होगा कि मैदान में लोट जाएगी। न ही ये सोचा था कि संगकारा की विदाई इस तरह होगी। लगातार चार शतक बनाने वाला बल्लेबाज इतना दबकर खेलेगा। बता दें कि ये संगकारा का आखिरी वर्ल्ड कप है। 

पूर्व कप्तान कुमार संगाकारा और महेला जयवर्धने ने भी वनडे से संन्यास ले लिया। श्रीलंकाई बल्लेबाज कुमार संगाकारा का यह आखिरी वनडे मैच था। अब संगकारा के फैंस उन्हें केवल सफेद ड्रेस में मैदान पर खेलते देख सकेंगे। जबकि जयवर्धने ने सभी तरह की क्रिकेट से संन्यास ले लिया।

महेला जयवर्धने का भी ये आखिरी अंतर्राष्ट्रीय मैच था। जयवर्धने ने क्रिकेट के तीसरे फॉमैर्ट से भी संन्यास ले लिया है। जयवर्धने पहले ही टेस्ट और टी 20 से संन्यास ले चुके हैं। हालांकि इस वर्ल्ड कप में जयवर्धने कुछ खास नहीं कर पाए। मगर एक शतक जरूर लगाया।

गौरतलब है कि वर्ल्ड कप के लीग मैचों में चार मैचों में लगातार 4 शतक लगाकर कुमार संगाकारा ने वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया था। सांगाकारा पिछले साल टी20 वर्ल्ड कप जीतने के बाद टी-20 से संन्यास ले चुके थे। अगस्त के आखिर में भारत के साथ होने वाली टेस्ट सीरीज के बाद संगाकारा टेस्ट से भी संन्यास ले लेंगे।